क्रकेट खेलने

  • एक तरह से रीति रही है कि विजयी उम्‍मीदवार सर्टिफिकेट पाते ही मंदिरों-मस्जिदों में जाते हैं। कई उम्‍मीदवारों ने मंदिरों में मन्‍नत मांग रखी होती है। किस्‍मत साथ देने पर वे भगवान के दर्शन कर पूजा-अर्चना करते हैं। भाग्‍य आजमाने वाले प्रत्‍याशी ज्‍योतिषों से पूछकर शुभ मुहूर्त में नामांकन से लेकर प्रचार प्रसार करते हैं। अपना वोट भी शुभ मुहूर्त में देते हैं। परिवार वाले और कार्यकर्ता ज्‍योतिष के चक्‍कर लगाते रहते हैं। अंक ज्‍योतिष के अनुसार वोटों की गणना में भी विश्‍वास रखते हैं। ग्रहों की स्थिति पर भी नजर रखते हैं। प्रत्‍याशियों के अलावा कार्यकर्ता भी परिणाम आने के बाद मंदिरों में पूजा-पाठ करते हैं।
  • 12 बजे के बाद रंग खेलने पर होगी पाबंदी

    संसू,अंबेडकरनगर:आगामीदोमार्चकोहोलीत्यौहारसकुशलनिपटानेकेलिएपुलिसमहकमेनेरविवारकोमैराथनमंथनकिया।इसक्रममेंजिलाधिकारीअखिलेश¨स […]

    Continue reading

1