गहरे प्यर से तूने प्यर कय lyrics

1