अरवल पर्वत कस प्रकर क पर्वत है

  • यहां पर दोनों ने एक ईंट भट्ठे पर कुछ दिन काम किया। भट्टे पर पुलिस के आने की सूचना मिलने पर दोनों वहां से फिर भागकर दिल्ली आ गए। यहां पर काम खोजते रहे, लेकिन कोई काम नहीं मिला। इस दौरान दोनों राजस्थान और गुजरात में काम के लिए बात की। दोनों राज्यों में उन्हें नौकरी नहीं मिली। जिसके बाद दोनों गाजियाबाद के लिंक रोड थाना क्षेत्र में किराए पर कमरा लेकर रहने लगे। आरोपित विष्णु दिल्ली बार्डर पर फास्टफूड का ठेला लगाकर गुजारा कर रहा था।
  • मंदार पर्वत से नशामुक्ति का संदेश लेकर जा रहे

    संसू,बाराहाट(बांका):कोरोनाबंदिशोंकेबादभीसफाधर्मावलंबियोंभीड़मंदारमेंलगरहीहै।गुरुवारकोनेपालसहितझारखंड,बंगालसहितविभिन्नप्रा […]

    Continue reading

1