पन लगने क तरक

  • संवाद सहयोगी, गोपेश्वर: सरकार की गरीबों के लिए प्रधानमंत्री आवास सहित अन्य सुविधाओं को लेकर कई योजनाएं संचालित हो रही हैं। बावजूद इसके दशोली विकास खंड के डुंगरी गांव की विधवा सुनीता देवी अपनी तीन बेटियों के साथ जर्जर मकान पर रहने को मजबूर हैं। एक दशक बाद भी उन्हें आवास नहीं मिल सका है। आवास न मिलने से वह बारिश के बीच क्षतिग्रस्त घर में ही डेरा डाले रतजगा करने को मजबूर हैं।
  • बुलंदशहर हिंसा: गोली लगने से हुई इंस्पेक्टर स

    उत्तरप्रदेशकेबुलंदशहरमेंगोकशीपरगदरमचगयाहै,जिसमेंएकपुलिसइंस्पेक्टरसमेतदोलोगोंकीमौतहोगई.इसहिंसामेंसीओसमेतकुछपुलिसकर्मीजख्म […]

    Continue reading

  • ठण्ड लगने से कबाड़ी की मौत

    झाँसी:कई-कईदिनोंतकघरवापसनआनेवालेएककबाड़ीकाशवनगराहाटकेमैदानमेंपड़ामिला।परिजनोंनेठण्डलगनेसेमौतहोनेकाअन्देशाजतायाहै।पुलिसनेशव […]

    Continue reading

1