यूपी पुलिस कांस्टेबल भर्ती 2018 : इलाहाबाद हाई कोर्ट ने अलग मेडिकल बोर्ड गठित करने की मांग को किया अस्वीकार

प्रयागराज,जेएनएन।इलाहाबादहाईकोर्टनेउत्तरप्रदेशपुलिसकांस्टेबलभर्ती2018 केअभ्यर्थीद्वारापुलिसभर्तीबोर्डसेअलगमेडिकलबोर्डगठितकरउसकीजांचकरानेकीमांगअस्वीकारकरदीहै।हाईकोर्टनेकहाकिवैधानिकप्रक्रियाकेतहतगठितमेडिकलबोर्डएकविशेषज्ञसंस्थाहै।इसकेनिर्णयोंकोमहत्वदियाजानाचाहिए।जबतककिमेडिकलबोर्डकेनिष्कर्षमेंलापरवाहीयाखामीस्पष्टनहो,तबतकअदालतउसमेंहस्तक्षेपनहींकरसकतीहै।कोर्टनेकहाकिहालांकिअदालतकेपासअनुच्छेद226मेंपर्याप्तअधिकारहैं,लेकिनमेडिकलबोर्डकेमामलेमेंआदेशपारितकरतेसमयअदालतोंकोबेहदसचेतरहनेकीआवश्यकताहै।

उत्तरप्रदेशपुलिसकांस्टेबलभर्ती2018केअभ्यर्थीमनीषकुमारकीविशेषअपीलखारिजकरतेहुएयहआदेशन्यायमूर्तिपंकजमित्तलवन्यायमूर्तिडॉ.योगेंद्रकुमारश्रीवास्तवकीखंडपीठनेदियाहै।याचीकाकहनाथाकिपुलिसभर्तीबोर्डद्वारागठितमेडिकलबोर्डनेउसेअनफिटकरारदियाथा।मेडिकलबोर्डनेभीपहलेबोर्डकेनिष्कर्षकोसहीमानाहै,जबकिप्राइवेटडॉक्टरकीरिपोर्टकेअनुसारयाचीकामकेलिएस्वस्थ्यऔरएकदमफिटहै।इसमामलेमेंएकलन्यायपीठद्वारायाचिकाखारिजहोनेकेबादउसेविशेषअपीलमेंचुनौतीदीगईथी।

खंडपीठनेकहाकिजबतकवैधानिकरूपसेगठितमेडिकलबोर्डकेनिष्कर्षमेंकोईगंभीरखामीस्पष्टनहोतोअदालतऐसेमामलोंमेंहस्तक्षेपनहींकरसकतीहै।कोर्टनेकहाकियाचीमेडिकलबोर्डकेनिष्कर्षमेंकोईअनियमिततानहींबतासकाहै।प्राइवेटडॉक्टरकीरिपोर्टभीस्पष्टनहींहैकियाचीकोबीमारीथीअथवानहीं।ऐसेमेंहस्तक्षेपकरनेकाऔचित्यनहींहै।