वकीलों और पुलिस की झड़प को समय रहते रोक लेना चाहिए था : मनीष सिसोदिया

नईदिल्ली: राजधानीकेतीसहजारीकोर्टमेंवकीलोंऔरपुलिसवालोंकेबीचहुईहिंसकझड़पकेबादउपजेहालातोंपरदिल्लीकेडिप्टीसीएममनीषसिसोदियानेकहाहैकिइसहिंसाकोसमयरहतेहीरोकलेनाचाहिएथा.वकीलोंऔरपुलिसकेबीचचलरहीतनातनीपरपत्रकारोंकाजवाबदेतेहुएसिसोदियानेकहा,येस्थितिअप्रत्याशितहै,एकतरफवकीलजोजनताकोन्यायदिलानेकाकामकरतेहैऔरदूसरीतरफपुलिसहैजोजनताकीसुरक्षाकरतीहैदोनोंआमआदमीकेइर्दगिर्दखड़ेहुएवोलोगहैजिनपरआमआदमीभरोसाकरताहै,जबइनदोनोंकेबीचकोईसमस्याहोतीहैतोइसपरसमयरहतेउपायकरलेनेचाहिए.'

नईदिल्ली:

डिप्टीसीएमनेकहा,'हमचाहतेहैंकिकिसीभीतरहकीहिंसानहोऔरइससमस्याकाजल्दसेजल्दसमाधानहो.'

बतादेंकि2नवबंरकोदिल्लीकीतीसहजारीकोर्टपरिसरमेंपार्किंगकोलेकरवकीलोंऔरपुलिसकर्मियोंकेबीचहुईबहसनेहिंसकरूपलेलियाथाऔरइसदौरानपुलिसकोगोलीबारीकरनीपड़ीथी.इसहिंसामेंवकीलोंकोगोलीभीलगीऔरकईपुलिसकर्मीभीघायलहुएथे.

इसकेबादसोमवार4नवंबरकोदिल्लीकीसभीकोर्टमेंवकीलोंनेहड़तालकी.कड़कड़डूमाकोर्टऔरसाकेतकोर्टमेंवकीलोंद्वारापुलिसवालोंकीपिटाईकेवीडियोभीसामनेआए.जिसकेबादमंगलवारकोदिल्लीपुलिसमुख्यालयपरपुलिसकर्मियोंऔरउनकेपरिवारवालोंनेविरोधप्रदर्शनकिया.दिल्लीकेनरेलाऔरइंडियागेटमेंभीपुलिसवालोंकेपरिवारवालोंनेप्रदर्शनकियाऔरनिलंबितपुलिसवालोंकोवापसड्यूटीज्वाइनकरवानेकीमांगकी.