विरोध में शिक्षकों ने डीपीओ का पुतला फूंका

सुपौल।नवप्रशिक्षितशिक्षकोंकोसमस्थानिकइंडेक्सकेआधारपरनिर्गतपत्रकोरदकरने,वेतननिर्धारणऔरअंतरवेतनमेंमनमानी,डीपीईएरियरकाभुगताननहींकरने,14माहसेलंबितटीईटीशिक्षकोंकेलंबितवेतनकाभुगताननहींकरनेसहितअन्यसमस्याओंकोलेकरदर्जनोंशिक्षकोंनेबिहारपंचायतनगरप्रारंभिकशिक्षकसंघकेनेतृत्वमेंडीपीओ(स्थापना)प्रेमरंजनकापुतलाफूंककरविरोधजतायाहै।शिक्षकोंनेकहाकिजिलाकार्यक्रमपदाधिकारी(स्थापना)शेषबचेनवप्रशिक्षितशिक्षकोंकोशोषणकीमंशासेसमस्थानिकइंडेक्सकेआधारपरवेतननिर्धारणमेअनावश्यकअड़ंगालगारहेहैं।जबकिइसीजिलेमेंजिनशिक्षकोंनेनजरानादिया।उनकासमस्थानिकइंडेक्सकेआधारपरवेतननिर्धारितकरदियागयाहै।कहाकिजोशिक्षकएरियरभुगतानमेंउन्हेंखुशकरतेहैंउनकाभुगतानकरदियाजाताहैजोनहींकरतेउनकाभुगताननहींकियाजाताहै।टीईटीशिक्षकोंकेसाथडीपीओ(स्थापना)अवैधवसूलीकेचलतेफिक्सेसननहींकररहेहैं।कहा,हाईकोर्टकेआदेशकेबादभीडीपीईएरियरकाभुगताननहींकियाजारहाहै।मौकेपरपरमेश्वरकुमार,संजयकुमारनरेंद्रकामत,रामकृष्णमंडल,अरविदकामत,भोलागुप्ता,विजययादव,दिलीपराम,बबलूकामत,परवेजआलम,सरोजकुमार,सरवनचौपाल,अनिलयादव,शहवानारवानी,पूनमकुमारी,अर्चनाप्रभाकर,मुखुर्शीद,निर्मलकुमार,शशिशशिभूषणठाकुर,सतेन्द्रराम,मनोजकुमारसाहसमेतदर्जनोंशिक्षकउपस्थितथे।