UP में स्कूल खुले, 15 से ऑनलाइन शिक्षण की तैयारी में लगे प्रिंसिपल, टीचर्स तथा अन्य कर्मचारी

लखनऊ,जेएनएन।कोरोनावायरसकेसंक्रमणकेपटरीसेउतरेशैक्षिकसत्रकोभीनियमितकरनासरकारकेलिएबड़ीचुनौतीहै।कोरोनाकेसंक्रमणकेबढ़तेप्रसारकेबीचमेंभीउत्तरप्रदेशमेंआजसेस्कूलखुलगएहैं।अभीसभीस्कूलोंमेंबच्चोंकोनहींबुलायागयाहै।सिर्फप्रिंसिपल,शिक्षकतथाअन्यस्टॉफस्कूलपहुंचाहै।प्रदेशकेसभीसरकारीस्कूलोंनेभीऑनलाइनशिक्षणकार्यशुरूकरनेकीतैयारीकीहै,उसीकोअबअमलीजामापहनायाजाएगा।

प्रदेशमेंसभीसरकारीस्कूलआजसेखुलगएहैं।अभीस्कूलोंमेंकिसीभीबच्चेकोनहींबुलायागयाहै।सभीमेंसिर्फप्रिंसिपल,शिक्षकतथाउनकेअन्यसहयोगीहीपहुुंचेहैं।प्रिंसिपलकेसाथटीचर्सतथाअन्यसहयोगस्टॉफअबऑनलाइनक्लासकीतैयारीकररहीहै।इसकेसाथहीबच्चोंसेफीसलेनेकीभीयोजनातैयारहोगी।अभीसिर्फसामथ्र्यवानअभिवासकोंसेफीसलेनेपरचर्चाहोगी।इसकेसाथहीबच्चोंसेफीसकोकईकिस्तमेंलेनेपरभीमुहरलगसकतीहै।वसूलीजाएगी,असमर्थअभिवाकोंसेकिश्तोंमेंलीजाएगीफीस।

प्रदेशकेबेसिकतथामाध्यमिकशैक्षिकसत्रकोपटरीपरलानेकेसाथहीनियमितकरनेकोलेकरप्रदेशसरकारनेआजसेसभीस्कूलखोलदिएहैं।सरकारनेसभीशिक्षाबोर्डोंकेमाध्यमिकविद्यालयोंमेंऑनलाइनशिक्षणऔरनएसत्रकेप्रवेशकेलिएछहजुलाईसेप्रिंसिपल,शिक्षकोंऔरगैर-शिक्षणकॢमयोंकोबुलानेकीअनुमतिदीहै।प्रदेशकीअपरमुख्यसचिवआराधनाशुक्लानेइसबारेमेंआदेशजारीकिएहैं।स्कूलसंचालकअभीसिर्फप्रिसिंपल,शिक्षकोंऔरकर्मचारियोंकोकेवलऑनलाइनक्लासऔरएडमिशनकेलिएबुलासकेंगे।फिलहाल,छात्रोंकोनहींबुलायाजाएगा।सरकारनेनिर्देशदियाहैकिसभीस्कूल15जुलाईतकऑनलाइनकक्षाएंशुरूकरें।

इससंबंधमेंजारीआदेशकेअनुसारअपरमुख्यसचिवमाध्यमिकशिक्षाअराधानाशुक्लाकानिर्देशहैकि15जुलाईसेऑनलाइनक्लासशुरूकरनेसेपहलेसभीस्कूलोंमेंकोरोनावायरसकेसंक्रमणकेप्रसारसेबचनेकेलिएसभीउपायकिएजाऐं।सभीजगहपरसफाईकेसाथस्कूलकेभवनोंवफर्नीचरआदिकोपूरीतरहसेसैनेटाइजकरें।किसीभीस्कूलमेंकिसीकेआगमनसेपहलेउसकीथर्मलस्कैनिंगकीजानीचाहिए।तापमानसामान्यसेअधिकहोनेपरस्कूलमेंप्रवेशनहींदियाजानाचाहिए।सीएमओकोसूचितकियाजानाचाहिए।

अराधनाशुक्लानेस्कूलकोफीसकेसंबंधमेंभीनिर्देशजारीकियाहै।इसबाबतसरकारकानिर्देशहैकिसरकारतथासार्वजनिकक्षेत्रमेंकामकरनेवालेअभिभावकनियमितवेतनलेतेहैंऔरअपनीमासिकस्कूलफीसजमाकरतेहैं।जोअभिभावकफीसदेनेमेंसक्षमहैं,उन्हेंंभीफीसजमाकरनीचाहिए।इसकेइतरफीसदेनेमेंअसमर्थमाता-पिताकोफीससेराहतमिलनीचाहिए।जोअभिभावकफीसनहींदेपारहेहैं,उन्हेंंइससेछूटदीगईहै।उन्हेंंशुल्कजमानहींकरपानेकेबारेमेंएकआवेदनदेनाहोगाऔरइसकाकारणभीबतानाहोगा।इसकेबावजूद,यदिकोईअभिभावकफीसजमानहींकरपाताहै,तोभीनतोछात्रकोऑनलाइनपढ़ाईसेवंचितकियाजाएगाऔरनहीस्कूलसेनामकाटाजाएगा।

फीसतथाइसकेनिर्धारणकोलेकरकुछदिनपहलेलखनऊमेंअनएडेडप्राइवेटस्कूलएसोसिएशननेडिप्टीसीएमदिनेशशर्मासेमुलाकातकीथी।उनकोअवगतकरायागयाकिकुछअभिभावकसरकारीशासनादेशोंकाहवालादेतेहुएफीसजमानहींकररहेहैं,जिसकेकारणशिक्षकोंकावेतनदेनाउनकेलिएमुश्किलहै।ऐसेमेंडॉ.दिनेशशर्मानेउनकोबतायाकिऐसाकोईशासनादेशनहींहै।फीसकेबारेमेंसरकारकीतरफसेसिर्फइतनाहीनिर्देशहैकिअभिभावकोंकेकिसीभीकारणफीसजमानकरनेपानेसेकिसीभीबच्चेकोशिक्षासेवंचितनकरें।