उन्नाव रेप मामला: सुप्रीम कोर्ट ने पीड़िता को इलाज के लिए एयरलिफ्ट कर लखनऊ से दिल्ली लाने की दी इजाजत

उन्नावरेपपीड़िताकेइलाजकेलिएसुप्रीमकोर्टनेदियाआदेश

सुप्रीमकोर्टनेकीपीड़िताकोइलाजकेलिएएयरलिफ्टकरदिल्लीलानेकीअनुमतिदेदीहै.सुप्रीमकोर्टनेसोमवारकोअपनेआदेशमेंकहाकिअगरडॉक्टरोंकोलगताहैकिपीड़िताकोएयरलिफ्टकरदिल्लीलायाजासकताहैतोवहइसमेंदेरीनकरें.बतादेंकिउन्नावरेपपीड़ितारायबरेलीमेंहुईएकसड़कदुर्घटनामेंगभीररूपसेघायलहोगईथी.सुप्रीमकोर्टनेपीड़िताकेसाथघायलहुएवकीलकोभीसाथलाएजानेकीबातकहीहै.इसमामलेकीअगलीसुनवाईअबशुक्रवारकोहोगी.ध्यानहोकिउन्नावरेपपीड़िताकीमांकीचिट्ठीपरसुनवाईकेबादसुप्रीमकोर्टनेआरोपीविधायककुलदीपसिंहसेंगरपरचलरहेसभीपांचमामलोंकोदिल्लीट्रांसफरकरनेकाआदेशदियाथा.

गौरतलबहैकि    नेआदेशदियाथाकिपीड़िताकेचाचाकोउत्तरप्रदेशसेतुरंतदिल्लीकेतिहाड़जेलशिफ्टकियाजाए.प्रधानन्यायाधीशनेकहाकिअगरपीड़ितपरिवारकोकोईभीइमरजेंसीपरिस्थितमेंकोर्टआनाहैतोवोसेक्रेटरीजरनलकेपासकिसीभीवक्तआसकतेहैं.इसकेसाथहीपीड़िताकेपरिवारकोसीआरपीएफकीसुरक्षादीगईहै.  पीड़िताकेपरिजनोंकीओरसेकोर्टमेंकहागयाथा किउसकीहालतगंभीरहैऔरवहबेहोशहै.पीड़िताकेवकीलनेबतायाथाकिपरिजनउसकालखनऊमेंहीकरानाचाहतेहैं.इसपरकोर्टनेइसमामलेकेलंबितरखलियाहैऔरअबसुनवाईसोमवारकोहोगी.दूसरीओरउत्तरप्रदेशसरकारकीओरसेकहागयाहैकिपीड़िताकीहालतपहलेसेबेहतरहै.केंद्रसरकारकाकहनाहैकिउसेपीड़िताऔरउसकेवकीलदोनोंकोएयरलिफ्टकरनेमेंपरेशानीनहींहै.परिवारकीतरफसेकहागयाकिअगरभविष्यमेंकोईएमरजेंसीपरिस्थितिआतीहैतोउन्हेंसुप्रीमकोर्टमेंमेंशनकरनेकीइजाजतदीजाए.इसपरकोर्टनेकहाकि इमरजेंसीपरिस्थितमेंकोर्टआनाहैतोवोसेक्रेटरीजरनलकेपासकिसीभीवक्तआसकतेहैं.

ध्यानहोकि सुप्रीमकोर्टनेगुरुवारकोतीसहजारीअदालतकेजिलान्यायाधीशधर्मेशशर्माकोसनसनीखेजउन्नावबलात्कारकांडसेजुड़ेपांचआपराधिकमामलोंकीसुनवाईकाजिम्मासौंपाथा.मुख्यन्यायाधीशरंजनगोगोई,न्यायमूर्तिदीपकगुप्ताऔरन्यायमूर्तिअनिरूद्धबोसकीपीठनेबंदकमरेमेंसुनवाईकेदौरानजिलान्यायाधीशधर्मेशशर्माकानामतयकिया.इसीपीठनेइनपांचमामलोंकीसुनवाईलखनऊकीविशेषसीबीआईअदालतसेदिल्लीस्थानांतरितकीथी.पीठनेअपनेआदेशमेंकहाथाकियाचिकाओंकेस्थानांतरणकेलिएबनीपृष्ठभूमितथादेशकेप्रधानन्यायाधीशको12जुलाई2019कोभेजेपत्रमेंउल्लेखितबातोंकोध्यानमेंरखतेहुएहमइनमामलोंकोलखनऊकीसीबीआईअदालतसेदिल्लीमेंसक्षमअदालतमेंस्थानांतरितकरनेकाआदेशदेतेहैंऔरयहसक्षमअदालतदिल्लीकीतीसहजारीअदालतमेंजिलान्यायाधीशधर्मेशशर्माकीअदालतहै.''