उच्च शिक्षा की राह में समस्याओं का रोड़ा

संवादसहयोग,चम्पावत:सरकारनेउच्चशिक्षाकेनामपरमहाविद्यालयतोखोलदिएलेकिनउनमेंविषयोंकाअभावतथाअन्यसुविधाएंनहींहोनेकाखामियाजाछात्र-छात्राओंकोभुगतनापड़ताहै।जिलामुख्यालयस्थितकालेजमेंहीकईसमस्याएंहैं।विषयनहोनेकेचलतेअभिभावकअपनेपाल्योंकोअन्यत्रपढ़ानेकोविवशहैं।सरकारकेआश्वासनभीधरेकेधरेरहजानेसेछात्र-छात्राएंखुदकोठगामहसूसकरतेहैं।

राजकीयस्नातकोत्तरमहाविद्यालयमेंछात्रसंख्या718है।इसवर्षविज्ञानवर्गमें110,कलासंकायमें220तथाकामर्समें31नएप्रवेशहुएहैं।प्रवेशकेलिएछात्र-छात्राओंकीलाइनलगीहैलेकिनकालेजप्रशासनकीमजबूरीहैकिवहप्रतिविषय80सेअधिकछात्रनहींलेसकताहै।कालेजमेंकॉमर्सवअंग्रेजीविषयोंकेपदतोशासनसेस्वीकृतहैंलेकिनइनमेंकिसीकीतैनातीनहींकीगईहै।एमएमेंभीमहजअर्थशास्त्रवराजनीतिविज्ञानविषयहीहैं।एमएससीवएमकॉमकरनेकेलिएछात्र-छात्राओंकोयहांसेबाहरजानापड़ताहै।पिछलेदिनोंमहाविद्यालयकेवार्षिकोत्सवमेंआएउच्चशिक्षामंत्रीकेसमक्षछात्रसंघपदाधिकारियोंनेएमएमेंअंग्रेजी,हिंदी,समाजशास्त्रकेविषयस्वीकृतकरने,एमएससीतथाएमकामकीकक्षाएंसंचालितकरने,पुस्तकालयाध्यक्ष,शारीरिकशिक्षककीअविलंबतैनातीकीमांगउठाईथी।मंत्रीनेछात्रोंकोआश्वासनतोदेदियालेकिनवहआजतकपूरानहींहुआ।इसकेबादछात्रसंघपदाधिकारियोंनेउच्चशिक्षानिदेशकसेभीमुलाकातकीऔरउन्हेंकालेजकीबदहालीसेअवगतकराया।इसपरनिदेशालयनेप्राचार्यकोपत्रभेजएमएससी,एमकॉमवएमएमेंविषयोंकेप्रस्तावभेजनेकोकहा।अबचुनावआतेहीछात्रसंगठनोंकीराजनीतिभीगरमानेलगीहै।छात्रसंगठनकालेजकीसमस्याओंकोप्रमुखतासेउठानेलगेहैं।

निदेशालयकोभेजाहैप्रस्ताव

महाविद्यालयकेप्राचार्यडॉ.शीतलसिंहभंडारीनेबतायाकिएमएससी,एमकॉमवएमएमेंअंग्रेजी,हिंदी,समाजशास्त्रविषयोंकीअनुमतिदेनेकेलिएप्रस्तावउच्चशिक्षानिदेशालयकोभेजागयाहै।कॉलेजसभीमानकोंकोपूराकरताहै।कॉलेजकेपासकरीबदोहेक्टेयरजमीनहैऔरपर्याप्तसंख्यामेंभवनवकक्षा-कक्षहैं।पीजीसाइंस,एमकॉमखुलनेसेयहांकेछात्र-छात्राओंकोसुविधाहोगीऔरउन्हेंअन्यत्रनहींजानापड़ेगा।