उच्च न्यायालय ने दिल्ली में रिक्शों के पंजीकरण के लिए कई सुझाव दिए

नयीदिल्ली,24नवंबर::दिल्लीउच्चन्यायालयनेचांदनीचौकइलाकेमेंरिक्शोंकेपंजीकरणकामार्गआसानबनानेकेलिएआजउत्तरीदिल्लीनगरनिगमकोरिकार्डकेकंप्यूटरीकरणएवंएकसप्ताहकाअभियानचलानेसमेतकईसुझावदिए।न्यायमूर्तिबीडीअहमदऔरन्यायमूर्तिजयंतनाथकीपीठनेयेसुझावदिए।उससेपहले,रिक्शामालिकोंएवंचालकोंकाप्रतिनिधित्वकरनेवालेएकएनजीओनेआरोपलगायाहैकिनिगमअधिकारीरिक्शाचलानेवालोंकोपरेशानकररहेहैंऔरउन्हेंउनकापंजीकरणकरानेसेहतोत्साहितकररहेहैं।हालांकिअदालतनेइसमुद्देपरकोईआदेशनहींजारीकियाऔरनिगमकेवकीलसेइनसुझावोंपरनिर्देशलेकरआनेकोकहा।मामलेकीअगलीसुनवाई30नवंबरकोहोगी।पीठनेइसीबीचगृहमंत्रालयसेइसबातकाहलफनामादेनेकोकहाकिचांदनीचौककेपुनर्विकासकेसिलसिलेमेंअदालतीआदेशपरनोडलअधिकारीनियुक्तकिएगएदोपुलिसअधिकारियोंकाउसनेउच्चन्यायालयकीइजाजतकेबगैरतबादलाक्योंकरदिया।न्यायालयनेदिल्लीसरकारकेवरिष्ठवकीलराहुलमेहरासेदिल्लीकेकिसीपूर्वमुख्यसचिवसेविभिन्नएजेंसियोंकेसभीनोडलअधिकारियोंकीबैठककीअगुवाईकरनेकाकार्यसंभालनेकाअनुरोधकरनेकोकहा।अदालतचांदनीचौकइलाकेकेपुनर्विकासऔरगैरमोटरवाहनोंकेवास्तेलेनकेनिर्माणकेमुद्देपर2007मेंएनजीओमानुषीसंगठनएवंअन्यद्वारादर्जयाचिकाओंपरसुनवाईकररहीथी।