तस्वीरें तालिबान की नहीं बिहार के मुंगेर की हैं, जहां घोड़े पर सवार होते हैं हथियारों से लैस अपराधी, पुलिस के हाथ रहते हैं खाली

संवादसूत्र,मुंगेर।तालिबानसेआईतस्वीरोंकोइंटरनेटमीडियापरआपनेकईदफादेखाहोगा।जबअफगानिस्तानपरतालिबानीहुकूमतनेकहरबरपानाशुरूकिया।हररोजहथियारोंसेलैसतालिबानीकिसतरहफायरिंगकरतेथे।इसकेतमामवीडियोभीवायरलहुए। अबकुछऐसीहीतस्वीरेंबिहारकेमुंगेरसेसामनेआई।बावजूदइसके,पुलिसप्रशासनमौनऔरसुस्तपड़ाहुआहै।वारदातकेबादसेअबतकसिर्फकागजपरएफआईआरहुईलेकिनगिरफ्तारीनहीं।

घोड़ेपरसवारदर्जनोंकीसंख्यामेंआएअपराधियोंनेजमकरफायरिंगकी।हथियारलहराए,फोटोखिंचवाईऔरअपनाखौफबनातेहुएनिकलगए।कुछनामजदतोकुछअज्ञातकेखिलाफकेसदर्जहुआ।इसकेबादघायलोंकाइलाजकरवायागया।लेकिनखौफबनानेवालेअपराधीअभीतकगिरफ्तारनहींहुए।मामलामुंगेरकेटीकारामपुरदियाराकाहै।जहांजमीनकब्जानेकोलेकरतालिबानीअवतारमेंअपराधीपहुंचेथे।औरजमकरफायरिंगकीगईथी।

टीकारामपुरदियारामेंजमीनपरकब्जाजमानेकोलेकरतीनदिनपहलेहुईगोलीबारीमामलेकानामजदऔरअज्ञातआरोपितअभीतकपुलिसगिरफ्तसेबाहरहैं।मुफस्सिलथानाकेटीकारामपुरदियारेमेंरविवारकोजमीनकब्जाकोलेकरदर्जनोंराउंडगोलियांचलीथी।सभीबदमाशघोड़ेपरसवारपहुंचेथे।घटनाकोलेकरअभीभीगांवकेलोगदहशतमेंहैं।

(गजबहै,इन्हेंकोईडरनहीं...)

दरअसल,टीकारामपुरबनारसीरायटोलाकेमनीषकुमारकीजमीनपरगांवकेहीसुनीलरायनेकब्जाकरनेपहुंचाथा।मनीषकेविरोधकरनेपरसुनीलरायऔरउसकेसाथपहुंचेसहयोगियोंनेताबड़तोड़हवाईफायरिंगकरनीशुरूकरदी।गोलीबारीकेबाददियारेमेंअफरा-तफरीमचगई।इसमामलेमेंमुफस्सिलथानाध्यक्षकौशलेंद्रकुमारनेकहापुलिसआरोपितोंकीगिरफ्तारीकेलिएलगातारछापेमारीकररहीहै।अबगिरफ्तारीकबतकहोगी,येदेखनेवालीबातहै।फिलहाल,वारदातकोतीनदिनऔर72घंटेसेज्यादाकासमयबीतचुकाहै।