त्रिस्तरीय पंचायती राज व्यवस्था का कार्यकाल बढ़ाने की उठी मांग

समस्तीपुर।विघटितत्रिस्तरीयपंचायतोंकीजिम्मेदारीपरामर्शीसमितिकोसौंपनेकोलेकरराज्यसरकारद्वारालिएगएनिर्णयकेखिलाफभाकपामालेकार्यकर्ताओंनेगुरुवारकोसांकेतिकप्रदर्शनकिया।शहरकेस्टेशनरोडस्थितएकआवासीयपरिसरमेंकार्यकर्ताओंनेहाथोंमेंतख्तियांलेकरविरोधजताया।इसकेउपरांतजिलासचिवउमेशरायकीअध्यक्षतामेंएकसभाहुई।सभाकोसंबोधितकरतेहुएवक्ताओंनेराज्यसरकारकीनीतियोंपरआलोचनाकी।साथहीपंचायतकीजिम्मेदारीनौकरशाहीकोनदेकरजनप्रतिनिधियोंकोदेनेकीमांगकी।जिलासचिवनेकहाकिपंचायतोंकेकामकाजकोनौकरशाहीकेहवालेकरनेवालेअध्यादेशकीजगहपंचायतोंकाकार्यकालछहमाहबढ़ानेकीजरूरतहै।कहाकिसरकारद्वारापरामर्शदात्रीसमितिकेगठनकानिर्णयबिल्कुलहीअलोकतांत्रिकहै।जिलाकमेटीसदस्यउपेन्द्रराय,प्रमिलाराय,अनिलचौधरी,प्रीतिकुमारी,आरतीदेवी,ममतादेवी,आदित्यकुमार,जान्वीकुमारीआदिमौजूदरहे।दूसरीओरशहरकेविवेकबिहारमोहल्लामेंएपवाकार्यकर्ताओंनेहाथोंमेंतख्तियांलेकरसरकारकेखिलाफप्रदर्शनकिया।नेतृत्वजिलाध्यक्षबंदनासिंहनेकी।मौकेपरआइसाजिलासचिवसुनीलकुमार,सुरेन्द्रप्रसादसिंह,नीलमदेवी,सगीर,संजीतशर्मा,दीपकयदुवंशी,राजूकुमारझा,विवेककुमार,स्तुतिआदिमौजूदरहे।उजियारपुर,संस:प्रखंडकेहरपुररेवाड़ीमेंगुरुवारकोराज्यव्यापीआन्दोलनकेतहतभाकपामालेद्वारापंचायतकेचुनेप्रतिनिधियोंकेअधिकारोंकीसमाप्तिकेनिर्णयकोवापसकरनेसहितअन्यमांगोंकोलेकरधरनादियागया।मालेप्रखंडसचिवमहावीरपोद्दारकेनेतृत्वमेंआयोजितधरनामेंपंससफुलेंद्रप्रसादसिंह,दिलीपराय,मो.नयूम,कपिलदेवसिंह,रामबाबूमहतो,मो.समीममंसूरी,कुंदनकुमार,निर्धनशर्मा,मो.यासिन,अभिषेककुमार,मो.शहजाद,राजापासवान,अमीरीसाह,मो.मुस्तकीम,मदनसाह,कपिलदेवमहतोसहितअन्यआदिशामिलहुए।