तीनों कृषि कानूनों की वापसी किसान आंदोलन की ऐतिहासिक जीत : रामदेव वर्मा

समस्तीपुर।विभूतिपुरमेंभाकपा-मालेप्रखंडकमेटीकीएकबैठकशनिवारकोसुरौलीस्थितचंदनकुमारकेआवासीयपरिसरमेंहुई।अध्यक्षताललनकुमारनेकी।बैठकमेंप्रखंडसचिवअजयकुमारनेप्रखंडकमेटीकीओरसेललनकुमारकोमालेमेंशामिलहोनेकास्वागतकरतेहुएविभूतिपुरमेंभाकपा-मालेकेकामकाजकोऔरअधिकव्यवस्थितकरनेकासंकल्पदोहराया।बैठककीशुरुआतमेंपार्टीकार्यकर्तादिलीपझाऔरसंजीवझाकीसड़कहादसेमेंदर्दनांकमौतऔररोसड़ामेंपुलिसकेपिटाईसेमृतसफाईकर्मीरामसेवकरामकोएकमिनटकामौनधारणकरश्रद्धांजलिदीगई।बैठकमेंउपस्थितपूर्वविधायकमंजूप्रकाशनेप्रखंडमेंपंचायतचुनावसमीक्षा,नएसदस्यताभर्ती,जनसंगठननिर्माणपरबलदेतेहुएरामसेवकरामकीपिटाईमेंशामिलपुलिसकर्मीऔरदोषीपुलिसकर्मियोंपरहत्याकामुकदमादर्जकरने,परिवारकोकोबीसलाखमुआवजादेनेऔरपरिवारकेएकसदस्यकोसरकारीनौकरीदेनेकीमांगकोलेकरजिलाकमेटीकेआह्वानपरआगामी26नवंबरकोप्रखंडमुख्यालयपरधरनाकोसफलबनानेकीअपीलकार्यकर्ताओंसेकी।वहींपूर्वविधायकरामदेववर्मानेमोदीसरकारद्वारातीनोंकृषिकानूनवापसलेनेकीघटनाकोकिसानआन्दोलनकीआधीऐतिहासिकजीतबतायाहै।उन्होंनेकहाकिभारतकेकिसानोंकोकृषिलागतकाडेढ़गुनामूल्यदिएजानेवालीकानूनबनवानेमेंसफलताजिसदिनहासिलहोजाएगी,उसदिनभारतकायहकिसानआंदोलनविश्वकेकिसानोंकोनईदिशाप्रदानकरेगा।बैठकमेंपर्यवेक्षकजिलास्थायीकमेटीसदस्यफूलबाबूसिंह,प्रखंडकमेटीसदस्यशम्भूराय,बैजनाथमहतो,राजेंद्रमहतो,छट्ठूप्रसाद,तेजनारायणसिंह,कपिलमहतो,महावीरमहतो,विनोदकुमार,गणेशराम,रामप्रवेशसाहु,लक्ष्मीनारायणसिंह,विजयकुमारसिंह,मेघनभगत,उमेशचंद्रसाहुआदिरहे।