स्वजनों ने किशोरों को थमा रखी है मोटरसाइकिलें, स्कूल संचालक भी मौन

दीपकगर्ग,श्रीमुक्तसरसाहिब:वाहनचलानेकोलेकरबेशकदेशमेंकड़ेकानूनबनेहुएहैं,लेकिनइनकाशहरमेंसख्तीकेसाथपालननहींहोरहा।18सेकमआयुकेकिशोरबाइकनहींचलासकते।इसकेबावजूदशहरमेंबड़ीसंख्यामेंकिशोरनकेवलगलियोंऔरबाजारोंमेंमोटरसाइकिलदौड़ातेदेखेजासकतेहैं,बल्किसरेआमस्कूलभीआते-जातेहैं।अधिकतरलोगोंनेतोखुदहीअपनेकिशोरोंकोमोटरसाइकिलेंथमारखीहै।जबकिकिशोरकीगतिपरकोईनियंत्रणनहीहोताहै।येनकेवलअपनीजानजोखिममेंडालतेहैं,बल्किसड़कोंपरचलरहेदूसरेवाहनचालकोंकीजानकोभीखतरेमेंडालदेतेहैं।

हालांकिपिछलेदिनोंउपमंडलमजिस्ट्रेटस्वर्णजीतकौरनेइससंबंधमेंबैठकभीकीथीऔर18सालकीआयुसेकमवालोंकोवाहनचलातेहुएपकड़ेजानेपरकार्रवाईकीबातकिएथे,लेकिनट्रैफिकपुलिसनेअभीतकइसदिशामेंकोईकदमनहींउठायाहै।जल्दशुरूकरेंगेजांचअभियान,काटेंगेचालान

ट्रैफिकइंचार्जरघुवीरसिंहनेकहाकिज्यादाजिम्मेदारीमाता-पिताकीहोनीचाहिए।उन्हें18सालसेकमआयुकेकिशोरोंवाहनदेनाहीनहींचाहिए।ट्रैफिकपुलिसनेस्कूलोंमेंजाकरविद्यार्थियोंकोट्रैफिकनियमोंकेबारेमेंजागरूककियाजाताहै,स्कूलप्रबंधनसेभीकहाजाताहैकिवेअपनेपरिसरमें18सालसेकमवालोंकोवाहननलानेदें।स्कूलोंकेबाहरनाकेलगाकरकरेंगेजांच:एसडीएम

एसडीएमस्वर्णजीतकौरनेकहाकिजल्दहीविभिन्नस्कूलोंकेबाहरनाकेलगाकरविद्यार्थियोंकेलाइसेंसचेककिएजाएंगे।16सालकेकिशोरकोनानगियरव्हीकललाइसेंसउनकेपिताद्वारायहशपथपत्रदेकरबनवालियाजाताहैकिउनकेबच्चेकोवाहनठीकतरहसेचलानाआताहै,कलकोयदिकोईदुर्घटनाहोतीहैतोवहस्वयंजिम्मेदारहोंगे।किसीकिशोरकोवाहनअंदरलानेकीइजाजतनहीं:प्रिंसिपल

डीएवीपब्लिकस्कूलकेप्रिंसिपलप्रशांतलालनेकहाकिउनकेस्कूलमेंकिसीकिशोरकोवाहनलानेकीअनुमतिनहींहै।रोजानास्टाफकीतरफसेयहध्यानरखाजाताहै।हमनेपरिजनोंकोभीकईबारलिखितनोटिसदिएहैं।प्रि.प्रशांतलालनेयहभीसुझावदियाहैकिसरकारकोड्राइविगलाइसेंसबनानेकीउम्रसीमामेंबदलावकरदेनाचाहिए।आयुसीमा18सालसेघटाकर14सालकरदेनीचाहिए।वहींकईमां-बापकाकहनाहैकिवेनौकरीकरतेहैं।वेअपनेबच्चोंकोस्कूलछोड़नेयालेनेनहींआसकते।