स्वाति मालीवाल ने एलजी को लिखा पत्र, कहा- काम में बाधा ना डालें LG

दिल्लीमहिलाआयोगकीअध्यक्षस्वातिमालीवालनेदिल्लीकेउपराज्यपालनजीबजंगकोपत्रलिखकरकाममेंबाधानाडालनेकीअपीलकीहै.

अपनेपत्रमेंस्वातिनेलिखाहैकिएलजीदिल्लीमेंमहिलाओंकीसुरक्षासुनिश्चितकरनेमेंनाकामरहेहैं.मालीवालकेमुताबिक,निर्भयाकेबलात्कार

कीघटनाकेचारसालबीतजानेकेबादभीदिल्लीमेंबहुतकुछनहींबदलाहै,आजभीदिल्लीमेंबच्चियां,लड़कियांऔरमहिलाएंसुरक्षितनहींहैं.

तीनदिनपहलेहीचलतीकारमेंएकमहिलाकेसाथरेपकीवारदातहुईहै,दिल्लीमहिलाआयोगकेबार-बारगुजारिशकरनेकेबादभीउपराज्यपाल

कीतरफसेमहिलाओंकीसुरक्षाकोलेकरएकभीमीटिंगनहींबुलाईगई.

मालीवालनेकहाआयोगनेहोममिनिस्टरराजनाथसिंहसेलेकरउपराज्यपालतककोभीकईबारगुहारलगाईकिआपमहिलासुरक्षाकोलेकर

एककमेटीकोगठनकरेऔरसमय-समयपरमीटिंगकरकेमहिलासुरक्षाकोपुख्ताकरें,लेकिनइसपरभीकोईएक्शननहींलियागया.बल्किमहिला

आयोगपरदोझूठीएफआईआरदर्जकरवादीगई.जबकिमहिलाआयोगसेपिछलेआयोगकीअध्यक्षाकेकार्यकालकेदौरानहुईगड़बड़ीकी128पेज

कीरिपोर्टबनाकरएसीबीमेंदीगईउसपरकोईएक्शनअभीतकनहींलियागयाहै.आयोगकामात्रसातकरोड़काबजटहैऔरआयोगपरएकनहीं

बल्कितीन-तीनऑडिटबैठादिएगएहैं,उन्होंनेकहाकिआयोगकिसीभीतरहकीजांचकेलिएतैयारहैलेकिनआयोगमेंएकडरकामाहौलपैदा

कियाजारहाहै.

महिलाआयोगमेंहुईनियुक्तियोंपरजतायाएतराज

स्वातिमालीवालनेउपराज्यपालपरबिनासलाहआयोगकेसदस्योंकीनियुक्तिकाभीआरोपलगाया.मालीवालनेपत्रमेंलिखाकिएलजीऑफिसने

दिल्लीसरकारसेबिनाकोईसलाहमश्विराकिएवेटकमिश्नरअलकादीवानकोदिल्लीमहिलाआयोगकामेंबरसेक्रेटरीबनादिया.अलकादीवानने

आयोगकीस्वायत्तताकोखत्मकरनेकीकोशिशकरतेहुएआयोगकेकामकोपूरीतरहसेठपकरदिया.अलकादीवाननेआयोगमेंकान्ट्रैक्टपर

कामकररहेकर्मचारियोंकातीनमहीनेकावेतनरोकदिया,अबचौथामहीनाहोनेजारहाहैउनकर्मचारियोकोवेतननहींमिलाहै.जिसवजहसे

आयोगके181वीमेनहेल्पलाइन,मोबाइलहेल्पलाइन,रेपक्राइसिसरेल,क्राइसिसइंटरवेंशनसेल,महिलापंचायत,एसिडवाचसैल,एंटीट्रैफिकिंगएंड

रिहेब्लीटेशनसेलबंदहोनेकगारपरहैं.

दिल्लीमहिलाआयोगकीअध्यक्षनेएलजीसेअपीलकीहैकिवेदिल्लीकीबेटियों,महिलाओंकेप्रतिबिनाकिसीभेदभावकेदयाभावदिखाएं

औरदिल्लीमहिलाआयोगकोकामकरनेदेंताकिआयोगदिल्लीकोबच्चियोंऔरमहिलाओंकेलिएभीसुरक्षितबनानेकेलिएकामकरसके.उन्होंने

पत्रमेंलिखाहैकिआपकाऑफिसइसओरजरुरध्यानदेगाऔरकमीशनकेकामकाजमेंउत्पन्नकीजारहीबाधाओंकोदूरकरेगा.

गौरतलबहैकिदिल्लीमहिलाआयोगऔरउपराज्यपालकेबीचपिछलेकईसमयसेनियुक्तियोंकोलेकरविवादचलरहाहै.