सफलता के लिए अभ्यास जरूरी : शशिधर

लोहरदगा:सुंदरीदेवीसरस्वतीशिशुमंदिरमेंशुक्रवारकोप्रतिभासम्मानसमारोहकाआयोजनकियागया।विद्यालयप्रबंधनसमितिकेअध्यक्षशशिधरलालअग्रवालनेमांसरस्वतीकेचित्रकेसमक्षदीपजलाकरसमारोहकाउद्घाटनकिया।सम्मानसमारोहमें16-20नवंबरतकदेवघरकेमधुपुरमेंसंपन्नविद्याविकाससमितिद्वाराआयोजितप्रांतीयखेलकूदप्रतियोगिताकापुरस्कारजीतकरविद्यालयकामानबढ़ानेवालेविद्यार्थियोंकोसम्मानितकियागया।विद्यालयकीटीमनेमधुपुरकीटीमकोखो-खोप्रतियोगितामें14-2सेपराजितकरयहप्रतियोगिताजीतीथी।टीममेंकुलदीपभगत,अमितकुमार,रोहितभगत,रोशनकुमारनिखिलउरांव,नीरजकुमार,अमरकुमार,मनोरंजनभगत,आदित्यआर्यन,अभिनवआर्यन,अभिषेकमिश्र,विवेककुमार,पवनउरांव,रोहितउरांव,निलेशउरांवशामिलथे।व्यक्तिगतखिताबीदौड़मेंहेमंतअर्पितटोप्पोनेलंबीकूदमेंगोल्डमेडलप्राप्तकिया।सम्मानसमारोहमेंविद्यालयप्रबंधनसमितिकेअध्यक्षशशिधरलालअग्रवालनेकहाकिनिरंतरअभ्याससेहीसफलतामिलतीहैइसलिएअभ्यासकीनिरंतरताबनाएरखें।विद्यार्थियोंकाहौसलाबढ़ातेहुएकहाकिविद्याभारतीशिक्षायोजनामेंशारीरिकशिक्षाकोमहत्वपूर्णस्थानदियागयाहै।जिसकेतहतविद्यालयमेंहरसंभवव्यवस्थाकीजारहीहै।इसीकापरिणामहैकिलोहरदगाजैसेछोटेआदिवासीअंचलसेभीप्रतिभाएंराज्यएवंराष्ट्रस्तरपरउभरकरक्षेत्रकानामरोशनकररहीहैं।वनवासीकल्याणकेंद्रकेउत्तर-मध्यक्षेत्रकेशिक्षाप्रमुखवीरेंद्रकुमारशर्मानेभीविद्यार्थियोंकाउत्साहवर्धनकरतेहुएउन्हेंपूरीलगनशीलतासेकार्यकरनेकीसीखदी।उक्तअतिथियोंकेअलावाशीलाअग्रवालसरस्वतीविद्यामंदिरकेप्रधानाचार्यकुमारविमलेशएवंशिशुमंदिरकेप्रधानाचार्यसुरेशचंद्रपांडेनेभीबच्चोंकोसम्मानितकिया।मौकेपरशारीरिकआचार्यगणेशप्रसाद,त्रिलोचनसाहु,नंदकिशोरसाहु,राजकुमारदीक्षित,महेंद्रमिश्र,कुशवाहाकांत,जगदीशपांडे,रीतातिवारी,सुनीताकुमारी,लक्ष्मीदेवी,अशोक¨सहआदिमौजूदथे।