संघ के छह उत्सवों में मकर संक्रांति भी एक

जागरणसंवाददाता,साहिबगंज:साहिबगंजनगरकेराष्ट्रीयस्वयंसेवकसंघकेस्वयंसेवकोंनेगुरुवारकोस्थानीयरेलवेइंस्टीट्यूटकेमैदानमेंमकरसंक्रांतिकाउत्सवमनाया।इसअवसरपरमुख्यबौद्धिककत्र्तासेवानिवृत्तशिक्षकअशोककुमारसिंहनेबतायाकिसंघमेंकुलछहउत्सवमनानेकीपरंपरारहीहैजिनमेसेसेमकरसंक्रांतिभीएकहै।इसकाउद्देश्यहैसम्यकक्रांतिएवंसंगठनकाभावनिर्माणकरना।उन्होंनेकहाकिमकरसंक्रांतिकाखगोलीयमहत्वभीहै।आजकेदिनहीसूर्यदक्षिणायनसेउत्तरायणकीओरप्रवेशकरतेहैं।यहत्योहारभारतीयकृषिव्यवस्थासेभीजुड़ाहुआहै।इसदिनहमलोगनईफसलोंसेप्राप्तअन्न,गुड़,तिल,तेलइत्यादिकासेवनकरतेहैं।इसत्योहारकाएकप्रमुखउद्देश्यलोगोंकोआपसमेंजोड़नाभीहै।यहसमरसताकात्योहारहै।दक्षिणभारतमेंयहपोंगल,उत्तरभारतमेंमकरसंक्रांति,गुजरातमेंलोहड़ीकेनामसेजानाजाताहै।इसदिनपतंगउड़ानेकीपरंपरारहीहै।तिलउष्णताकाप्रतीकहैजिसकेदानकरनेसेपुण्यकीप्राप्तिहोतीहै,ऐसीमान्यताहै।स्कंदपुराणकेदसवेंखंडमेंभीइसत्योहारकीचर्चाहै।इसअवसरपरमंचासीनअधिकारियोंमेंमाननीयविभागसंघचालकविजयकुमार,अरुणविश्वकर्माभीमौजूदथे।कार्यक्रमकासमापननगरशारीरिकप्रमुखदेवजीतसिंहराठौरनेलिया।सामूहिकगीतनगरबौद्धिकप्रमुखप्रमोदकुमारनेगाया।एकलगीतजिलाघोषप्रमुखकृष्णबल्लभसिंहनेगाया।अमृतवचनहजारीकुमारनेकहा।सुभाषितराजीवकुमारमंडलनेप्रस्तुतकिया।इसअवसरपरविभागप्रचारकबिगेंद्रकुमार,विभागव्यवस्थाप्रमुखनितेशकुमार,विभागप्रचारप्रमुखराजीवकुमार,जिलाव्यवस्थाप्रमुखआलोककुमार,नगरकार्यवाहस्वपनकुमार,सहकार्यवाहपुष्करलाल,नगरव्यवस्थाप्रमुखपंकजकुमार,समीरकुमार,मुकेशकुमारआदिउपस्थितथे।