सीमावर्ती गांवों के बच्चों में पढ़ाई का क्रेज, दरिया पार कर भी पहुंच रहे स्कूल

तरूणजैन,फिरोजपुर:

अंतर्राष्ट्रीयहिद-पाकसीमासेसरहदसेमहज500मीटरदूरीपरस्थितसरकारीसीनियरसेकेंडरीस्कूलगट्टीराजोकेमेंस्कूलआनेकाविद्यार्थियोंमेंखासाउत्साहदिखरहाहै।सातमाहबादबादस्कूलखुलनेपरछात्रमुंहपरमास्क,आंखोंमेंखुशीवपीठपरबैगलेकरस्कूलपहुंचरहेहैं।स्कूलखुलनेकेतीसरेदिनस्कूलपहुंचनेवालेविद्यार्थियोंकाआंकड़ाबढ़रहाहै।बुधवारकोदोसौविद्यार्थीपढ़नेकेलिएस्कूलपहुंचे।

स्कूलमेंनौंवीकक्षामें125मेंसे54विद्यार्थीहाजिरहुएतोदसवीमें100मेंसे42विद्यार्थी,11वींमें106मेंसे28बच्चेऔर12वींमें66मेंसे44बच्चेउपस्थितहुए।स्कूलमेंसीमाकेसाथलगते14गांवोकेबच्चेपढ़नेआतेहैऔरकरीब18विद्यार्थियोंमेंसातछात्रसतलुजदरियापारकरकेरोजानाशिक्षाग्रहणकरनेआरहेहै।

छात्राओंकिरणाकौर,रमनदीपकौर,पूजा,अंबोबाईनेकहाकिवहबार्डरपररहकरदेशकेसिपाहीकाकामकरतीहैऔरउन्हेंकोरोनासेडरनहींलगता।उन्होंनेकहाकिअच्छीतालिमहासिलकरवहकोरोनाजैसीभयंकरबीमारियोंसेनिपटनेकीखुदयोजनातैयारकरेगी।

छात्राकैलाशकौर,सर्बजीतकौर,मनीशकौर,काजलनेकहाकिबार्डरदेपासगांवमेंरहकरसारादिनमुश्किलोंसेनिपटतेहैंऔरअबभविष्यबनानेकेलिएसातमाहबादस्कूलजारहेहैं।

अभिभावकबोले,स्कूलोंमेंघरसेबेहतरप्रबंध

अभिभावकोमुख्तियारसिंहनिवासीगांवभखड़ा,हजाराकेसुरजीतसिंह,झुगेमेहताबवालेकेअमरजीतमक्खणसिंहनेकहाकिस्कूलमेंबच्चोंकेलिएजोप्रबंधहै,वहघरसेभीज्यादाअच्छेहैं।इसलिएउन्हेंअपनेबच्चेस्कूलभेजनेमेंकोईडरनहींलगता।अगरबार्डरपरयुद्धभीहोताहैवहतबभीअपनेबच्चोंकोनिधड़कजंगकेलिएभेजेंगे।

200छात्रपहुंचेस्कूल

प्रिसिपलडा.सतिदरसिंहनेकहाकिजिसतरहसेबच्चोमेंपहलेदिनहीस्कूलआनेकाउत्साहथाऔरउनकीलगनथी,इससेसाबितहोताहैकिसीमावर्तीलोगहरमुसीबतकाडटकरमुकाबलाकरनेकोतैयारहै।स्कूलमेंचारकक्षाओंकी396विद्यार्थियोंकीसंख्याहै।पहलेदिनस्कूलमें158विद्यार्थीपहुंचेथे।बुधवारकोभीस्कूलमेंविद्यार्थियोंकीसंख्यामें200काआंकड़ापारथा।सीमावर्तीजिलेमें310सरकारीवनिजीस्कूलहैं,जिनमेंनौंवीसेबाहरवींतकशिक्षादीजातीहै,जबकिइनमें124स्कूलसरकारीहै।प्राइवेटस्कूलोमेंनौंवीकक्षामें6946,दसवींमें7501,गयारहवींमें5859,बाहरवींमें7347विद्यार्थीपढ़तेहै,जबकिसरकारीस्कूलोमेंनौंवीमें8251,दसवींमें6706,गयारहवींमें6383,बाहरवींमें4832विद्यार्थीदाखिलहै।

कोरोनासेबचावकेलिएकिएगएसभीप्रबंध:डिप्टीडीईओ

डिप्टीडीईओकोमलअरोड़ानेकहाकिसीमावर्तीविद्यार्थियोमेंस्कूलजानेकापूराउत्साहरहताहैऔरशिक्षाविभागद्वारास्कूलोमेंकोविडसेबचावकेलिएसभीप्रबंधमुकम्मलकररखेहैंताकिकिसीविद्यार्थीकोपरेशानीनाहो।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!