श्री सालासर धाम में भक्तों ने बालाजी को लगाया भोग

संवादसहयोगी,मोगा

श्रीसालासरधाममेंश्रीहनुमानचालीसाकापाठएवंसंकीर्तनकरवायागया।वहीं,भंडारालगाकरप्रसादवितरितकियागया।

संस्थापकसुशीलमिड्डानेहनुमानजीकेदरबारमेंज्योतिप्रज्वलितकी।समाजसेवीरामतीर्थनेपरिवारसहितपूजनकरकेबालाजीकोभोगलगायाऔरश्रीहनुमानचालीसाकापाठकिया।गायकोंनेमधुरभजनोंकागायनकिया।पंडितसुरिदरशुक्ला,जयनारायणनेकहाकिहमेंरोजानाईश्वरसेप्रार्थनाकरमाता-पिताकाआशीर्वादप्राप्तकरनाचाहिए।माता-पिताकेआशीर्वादमेंबहुतशक्तिहैजोहमेंसहीदिशाप्रदानकरनेकेसाथ-साथहरकार्यमेंसफलताप्रदानकरतीहै।उन्होंनेकहाकिमनकीशांतिवदुखोंकेनिवारणकेलिएसभीलोगोंकोहनुमानचालीसाकापाठकरनाचाहिए।सुशीलमिड्डानेबतायाकिश्रीसालासरधाममेंहनुमानचालीसाकेपाठकेसाथसाथलंगरकीव्यवस्थाभीचलरहीहै।सालासरधाममेंधार्मिककार्योकेसाथ-साथसमाजसेवीकार्यभीकिएजातेहैं।इसअवसरपरपंडितजयनारायण,राघव,अभिलाषा,राधिका,रामतीरथ,अशोककुमार,कपिलदेव,सुमितकुमार,अमितकुमार,ममता,तनु,अनु,रवीना,सना,हर्षित,लक्ष्य,मन्यु,परनीक,सौरवगोयल,यकीनकुमार,जगदीशतांगड़ी,रविकुमार,राहुलकुमार,मनोजजयसवाल,डेविडखन्ना,विनोदकुमारगोलू,अवतारसिंह,ललितकलसी,गगनगाबा,दीपकमारवाह,विक्रमकलसी,रविसेठी,विकासगुप्ताआदिहाजिरथे।