शिक्षा के मंदिर में फिर बजीं घंटियां

संवादसहयोगी,साहिबगंज:राज्यसरकारकेआदेशकेबादकोरोनाकेकारण22माहसेबंदस्कूलशुक्रवारकोखुलगए।हालांकि,पहलेदिनस्कूलोंमेंकाफीकमउपस्थितिहुई।निजीस्कूलोंमेंकरीब50फीसदीतोसरकारीविद्यालयोंमें10फीसदसेभीकमउपस्थितिहुई।

संतजेवियरस्कूलसमेतअन्यविद्यालयोंमेंबच्चोंकेप्रवेशकरनेसेपूर्वथर्मलस्कैनिगकीगई।सभीकेलिएमास्कअनिवार्यथा।शुक्रवारकोसुबहसेहीमौसमखराबहोनेकेबावजूदनिजीविद्यालयोंमेंछात्र-छात्राओंकेकाफीभीड़देखीगई।सरकारीविद्यालयोंमेंकाफीकमसंख्यामेंछात्र-छात्राएंपहुंचे।छात्र-छात्राओंकोशपथपत्रलेकरआनेकोकहागया।जमुनादासबालिकाउच्चविद्यालयकेप्राचार्यप्रशांतकुमाररायनेबतायाकिपहलेदिन20से30छात्राएंपहुंचेथे।राजस्थानमध्यविद्यालयकीप्राचार्यरानीझानेबतायाकिसुबहसेमौसमखराबरहनेकीवजहसेकाफीकमसंख्यामेंबच्चेपहुंचे।बांग्लाबालिकाविद्यालयकेप्राचार्यचंद्रसिंहनेबतायाकिकुछबच्चेआएहुएथेजिन्होंनेशपथपत्रजमाकरदियाहै।सभीबच्चोंकोसोमवारसेआनेकोकहागयाहै।मध्यविद्यालयतालाबकेप्राचार्यमनोजरायनेबतायाकिमौसमखराबबारिशकीवजहसेकाफीकमसंख्यामेंबच्चेआएहुए।सोमवारसेसभीबच्चोंकोस्कूलबुलायागयाहै।लंबेसमयकेबादस्कूलखुलाहै।स्कूलखुलनेसेकाफीखुशीहुई।अबअपनेदोस्तोंकेसाथबैठकरपढ़ाईकरूंगा।घरमेंरहते-रहतेबोरहोगयाथा।पढ़ाईभीठीकसेनहींहोरहीथी।

आदित्यराज,मध्यविद्यालयतालाब

आनलाइनहीपढ़ाईहोतीथीपरंतुइसस्कूलमेंजिसप्रकारकाशिक्षामिलतीहैवैसानहींहोपताथा।अबस्कूलमेंअपनेदोस्तोंकेसाथबैठकरपढ़ाईकरूंगा।कोरोनाकीवजहसेपढ़ाईकाकाफीनुकसानहुआ।

गोलूकुमार,मध्यविद्यालयतालाब

करीबदोसालबादआजस्कूलआया।दोस्ताोंसेमिलकरकाफीअच्छालगा।आजकुछखासपढ़ाईनहींहुईलेकिनआगेमनलगाकरपढ़ाईकरूंगा।दोस्तोकेसाथबैठकरपढ़नाअच्छालगताहै।

आयुषकुमार,मध्यविद्यालयतालाब

आजपहलेदिनस्कूलआयाथोड़ी-बहुतपढ़ाईभीहुई।काफीदिनोंबाददोस्तोंसेमुलाकातहुई।काफीअच्छालगा।अबनियमितरूपसेस्कूलआऊंगाऔरपढ़ाईमेंहुईकमीकोदूरकरूंगा।

आयुषराज,मध्यविद्यालयतालाब