शहीदों को किया याद, पूर्व सैनिकों का सम्मान

जागरणटीम,गढ़वाल:1971केविजयदिवसपरभारत-पाकिस्तानयुद्धमेंशहीदहुएदेशकेअमरशहीदोंकेचित्रोंपरगढ़वालभरमेंजनप्रतिनिधियों,सामाजिककार्यकर्ताओं,गणमान्यनागरिकों,अधिकारियों,भूतपूर्वसैनिकोंवउनकेआश्रितोंनेश्रद्धासुमनअर्पितकिए।साथहीयुद्धलड़नेवालेपूर्वसैनिकोंवउनकेआश्रितोंकासम्मानकियागया।

पौड़ीकलक्ट्रेटपरिसरमेंआयोजितविजयदिवसकार्यक्रमकेअवसरपरप्रभारीजिलाअधिकारीदीप्ति¨सहनेभारत-पाकयुद्धमेंप्रतिभागकरनेवाले32पूर्वसैनिकोंवशहीदकेपरिजनोंकोशालभेंटकरसम्मानितकिया।जिलासैनिककल्याणअधिकारीमेजरकरन¨सहरावतनेबतायाकिइसयुद्धमेंप्रदेशके255सैनिकोंनेहिस्सालियाथा।विजयदिवसपरआयोजितप्रतियोगितामेंसीनियरवर्गमेंएमआइसीपौड़ीकीआंचलप्रथम,जीआइसीपौड़ीनगरकेरोहितनयालद्वितीयवजीआइसीक्यार्ककीआरतीरावतनेतृतीयस्थानप्राप्तकिया।जूनियरवर्गमेंजीजीआइसीपौड़ीनगरकीकुमकुमनेपहला,जीआइसीकंडाराकीश्वेतानेदूसरावजीआइसीउज्याड़ीकीसिमरननेतीसरास्थानपाया।

गोपेश्वरमेंजिलापंचायतसभागारमेंजिलासैनिककल्याणविभागनेदेशभक्तिसेसंबंधितफिल्मभीदिखाई।प्रभारीजिलाधिकारीहंसादत्तपांडेनेकहाकियहदिवसभारतीयसेनाकेशौर्य,पराक्रम,औरसम्मानकरनेकोप्रदर्शितकरताहै।जिलासैनिककल्याणअधिकारीले.कर्नलबीएसरावत(अप्रा)नेकहाकिविजयदिवसइसलिएमहत्वपूर्णहैक्योंकिइसदिनदेशकीसेनानेपाकिस्तानके90हजारसैनिकोंकोआत्मसमर्पणकेलिएमजबूरकियाथा।अपरजिलाधिकारीएमएसबर्नियानेकहाकिजिलेमेंजिलाधिकारीकीपहलपरमहाविद्यालयगोपेश्वरमेंप्रेरणानिश्शुल्कको¨चगसेंटरकीशुरूआतकीगईहै।प्रभारीजिलाधिकारीनेशहीदहवलदारदेवेन्द्र¨सहकेभाईवीरेन्द्र¨सह,शहीदसूबेदारमेजरनारायण¨सहकीपत्नीशांतादेवीतथाघायलसैनिकनायकदलबीर¨सह,नायकमहिपाल¨सहतथालड़ाईभागलेनेवालेसूबेदारनारायण¨सह,हवलदारक्लर्कदयाल¨सहरावतसहितहवलदारबचन¨सहकीपत्नीहिम्मतीदेवीतथागोविन्द¨सहकीपत्नीराधादेवी,सूबेदारमेजरसंग्राम¨सहकेपुत्रमहिपाल¨सहकोसम्मानितकिया।

रुद्रप्रयागमेंजिलेमेंविजयदिवसरंगारंगकार्यक्रमोंकेसाथधूमधामसेमनायागया।राइंकारुद्रप्रयागप्रांगणमेंआयोजितसमारोहकाशुभारंभडीएममंगेशघिल्डियाल,सीओ10जैकलाईविवेकएवंजिलासैनिककल्याणअधिकारीकर्नलआरएलथापा(सेनि)नेसंयुक्तरूपसेदीपप्रज्ज्वलितकरकिया।उन्होंनेकहाकिसभीकोदेशएवंसैनिकोंकेप्रतिसम्मानकाभावरखनाचाहिए।इसअवसरपरडीएमजिलाधिकारीएवंनगरपालिकाअध्यक्षागीता¨झक्वाणनेयुद्धमेंशहीदहुएराइफलमैनगजपाल¨सह,दरबान¨सह,कुन्दन¨सहभंडारीकेसाथहीयुद्धकेप्रत्यक्षदर्शीराइफलमैनदयाल¨सहकोपुरस्कारएवंशालभेंटकरसम्मानितकियागया।विजयदिवसकेअवसरपरराइंकारुद्रप्रयाग,राबाइंका,सरस्वतीविद्यामंदिरबेलनी,सरस्वतीशिशुमंदिरपुनाड़समेतकईस्कूलीछात्र-छात्राओंनेदेशभक्तिगीतोंपरसांस्कृतिककार्यक्रमोंकीप्रस्तुतिदी।