शारीरिक व मानसिक परेशानियों की जड़ है नशा

संवादसहयोगी,चंबा:नशाकरनासेहतकेलिएहानिकारकहै।यहसबलोगजानतेहैं,लेकिनइसकेबावजूदभीलोगनशाकरनेसेबाजनहींआतेहैं।नतीजतन,उन्हेंशारीरिकवमानसिकपरेशानीकासामनाकरनापड़ताहै।यहबातएसपीचंबाडॉ.मोनिकानेदैनिकजागरणचंबाद्वाराभारतीयपब्लिकस्कूल(बीपीएस)चंबामेंआयोजितनशाबनानासूरकार्यक्रमकेदौरानबच्चोंसंबोधितकरतेहुएकही।उन्होंनेकहाकिनशेकीलतयदिकिसीबच्चेकोलगजातीहैतोयहऔरभीघातकहोजातीहैक्योंकिजिसउम्रमेंबच्चोंकोभविष्यसंवारनेजरूरतहोतीहैउसउम्रमेंवेनशेकीलतमेंफंसकरअपनेजीवनकोबर्बादीकीओरलेजातेहैं।इसदौरानउन्होंनेबच्चोंसेनशेपरसवालभीपूछे।उन्होंनेपूछाकिनशाकरनेकेक्यादुष्परिणामहैं।इसपरबच्चोंद्वाराबतायागयाहैकिनशाकरनेसेशरीरवमस्तिष्कपरनकारात्मकप्रभावपड़तेहैं।एसपीनेकहाकिनशाकरनेवालेअपनीएकअलगहीदुनियामेंजीतेहैं।उन्हेंवास्तविकदुनियासेकोईभीलेना-देनानहींहोतीहै।हरवक्तबसनशेकेबारेमेंसोचतेरहतेहैं।ऐसेमेंवेअपनीअच्छीखासी¨जदगीकोनरकबनादेतेहैं।इसलिएबच्चेनशेसेहमेशादूररहेंतथादूसरोंकोभीइससेदूररहनेकेलिएप्रेरितकरें।

गुड़ियाहेल्पलाइनवशक्तिएपपरभीकियाजागरूक

एसपीनेबच्चोंकोनशेकेखिलाफजागरूककरनेकेसाथ-साथगुडियाहेल्पलाइन1515वशक्तिएपकेबारेमेंभीविस्तारसेबताया।उन्होंनेकहाकियदिकोईबच्चायाबच्ची,युवतीयामहिलामुसीबतमेंफंसजातेहैंतोवेगुडियाहेल्पलाइनपरइसकीसूचनादेकरसहायताप्राप्तकरसकतेहैं।इसकेअलावाउन्होंनेबच्चोंकोशक्तिएपकेबारेमेंभीजागरूककिया।

दैनिकजागरणकीमुहिमकोसराहा

एसपीचंबाडॉ.मोनिकानेदैनिकजागरणद्वाराचलाएजारहेनशाबनानासूरकार्यक्रमकीसराहनाकी।उन्होंनेकहाकिदैनिकजागरणद्वाराचलायागयाकार्यक्रमजागरूककरनेकेलिएएकबेहतरकार्यक्रमहै।इसतरहकेकार्यक्रमोंसेलोगोंमेंजागरूकताआतीहै।

दैनिकजागरणद्वारास्कूलोंमेंनशाबनानासूरकार्यक्रमकेतहतबच्चोंकोनशेकेखिलाफजागरूककियाजारहाहै।यहएकबेहतरविकल्पहै।क्योंकिस्कूलमेंपढ़नेवालेबच्चोंकीआयुऐसीहोतीहैकिउनकेभटकनेकीआशंकाअधिकरहतीहै।समय-समयपरजागरूकताहीबच्चोंकोनशेसेदूररखसकतीहै।बच्चोंसेआह्वानहैकिवेअन्यलोगोंकोभीनशेकेखिलाफजागरूककरें।

-अंजलीमल्होत्रा,पार्षदएवंएडवोकेटचंबा।

स्कूलमेंएसपीचंबाडॉ.मोनिका,दैनिकजागरणतथास्कूलप्रबंधनद्वाराबच्चोंकोनशेपरजागरूककियागयाहै।इससेबच्चोंकोकाफीलाभमिलाहै।इसतरहकेकार्यक्रमोंसेजागरूकताफैलतीहै।बच्चोंसहितयुवाओंवबुजुर्गोंकोभीनशेसेहमेशादूरीबनाएरखनीचाहिए।

-भुवनशर्मा,प्रधानाचार्यबीपीएसस्कूलचंबा।

कार्यक्रमसेकाफीकुछसीखनेकोमिलाहै।बच्चोंकोजागरूककरनेकेलिएइसतरहकेकार्यक्रमभविष्यमेंभीकरवाएजातेरहनेचाहिए।

-आयूषमहाजन,छात्रबीपीएसस्कूलचंबा।

स्कूलोंमेंनशेकेखिलाफजागरूकताकार्यक्रमबच्चोंकोजागरूककरतेहैं।आजजिसतरहसेबच्चेवयुवानशेकेचंगुलमेंफंसरहेहैं।उससेबचनेकेलिएऐसेकार्यक्रमजागरूकताफैलातेहैं।

-दीक्षाठाकुर,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

आखिरकारआजबच्चेनशेकीलतमेंक्योंफंसरहेहैं।क्यानशाइतनाहावीहोगयाहैकिउससेबचनानामुमकिनहोगयाहै।इसपरविचारकरनेकीजरूरतहै।

-मानसीगुप्ता,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

नशाइन्सानकोबर्बादीकीओरलेजाताहै,लेकिनइसकेबावजूदइन्साननशाकरनेसेबाजनहींआता।इसकेखिलाफसभीकोमिलकरलड़नेकीजरूरतहै।

-युक्तिचौहान,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

बुधवारकोस्कूलमेंआयोजितकियागयाकार्यक्रमबेहतररहा।एसपीचंबाद्वाराजिसतरहसेबच्चोंकोनशेवअन्यचीजोंकेप्रतिजागरूककियागया।उसकाकाफीलाभमिलेगा।

-वामिकानैयर,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

सभीकोपताहैकिनशाशरीरवमनकोप्रभावितकरताहै।फिरक्योंलोगनशेकेपीछेभागतेहैं।इसनशेकोजड़सेखत्मकरनेकेलिएकार्यकरनेकीजरूरतहै।

-साहिलकपूर,छात्रबीपीएसस्कूलचंबा।

बीपीएसस्कूलमेंनशाबनानासूरकार्यक्रमकेतहतबच्चोंकोएसपीचंबाद्वारासंबोधितकियागया।उन्होंनेबेहतरढंगसेनशेकेदुष्प्रभावबताए।येएकदमसमझआगए।

-भागवतमहाजन,छात्रबीपीएसस्कूलचंबा।

नशाछोड़नेकेलिएहरकोईएकदूसरेकोकहताहै।लेकिनसभीकोपहलेअपनेअंदरझांककरदेखनाहोगा।यदिप्रत्येकव्यक्तिअपनेलिएनशाछोड़ेगातोनशासमस्याहीनहींरहेगी।

-सान्यासूर्या,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

नशाबनानासूरजागरूकताअभियानबेहतरहै।ऐसेकार्यक्रमोंकीसमय-समयपरजरूरतहोतीहै।ऐसेमेंभविष्यमेंभीऐसेकार्यक्रमकरवाएजाएं।

-प्राचीनागपाल,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

नशाइन्सानकोअंदरहीअंदरखोखलाबनाताचलाजाताहै।यहअबपूरीतरहसेनासूरबनचुकाहै।बड़ेहोंचाहेबूढ़ेयाफिरजवान।अधिकतरलोगइसकेचंगुलमेंफंसेहैं।इसेदूरकरनाहोगा।

-कृष्णा,छात्राबीपीएसस्कूलचंबा।

कोईभीजानवरनशानहींकरताहै।इन्सानहीहैजोनशाकरताहै।आखिरक्योंइन्साननशेकीओरआकर्षितहोरहाहै।इसपरकार्यकरनेकीजरूरतहै।

-शुभमशर्मा,छात्रबीपीएसस्कूलचंबा।