सावन में बरसाते हैं शिव कृपा

सावनमाहकोभगवानशिवशंकरकीआराधनाकेलिएयादकियाजाताहै।चारोंओरबमबमभोलेऔरभगवानशिवकाजयघोषगूंजनेलगताहै।कांवड़मेंपवित्रनदियोंसेजलभरकरभोलेकाअभिषेककरतेहैं।सावनमाहमेंशिवकीपूजाकरनेसेवर्षभरशिवकीपूजाकाफलप्राप्तहोताहै।भगवानशिवकेजलाभिषेककेलिएसावनकेसोमवारकाविशेषमहत्वहोताहै।सावनमासमेंहरिद्वारसेगंगाजललाकरअगरशिव¨लगकाजलाभिषेककियाजाएतोइससेप्रसन्नहोकरभगवानशंकरश्रद्धालुओंकीहरइच्छापूरीकरतेहैं।¨हदूधर्मकेअनुसारसावनमाहकोभोलेनाथकामाहमानाजाताहै।¨हदूधर्ममेंव्रतपरंपराऔरदेवस्मरणमानवकोप्रकृतिकेनियमऔरव्यवस्थाओंसेजोड़करजीवनकोसुखीऔरस्वस्थ्यरखनेकाबेहतरीनउपायमानेगएहैं।यहीकारणहैहरमाह,तिथिववारअनेकदेवी-देवताकीपूजा-उपासनाकोसमर्पितहैं।इसीकड़ीमेंसावनमाहवसोमवारकादिनभगवानशिवकीपूजा-आराधनाकाविशेषकालहै।

¨हदूधर्मकेअनुसारसावनकेपूरेमाहमेंभगवानशंकरकापूजनकियाजाताहै।इसमाहकोभोलेनाथकामाहमानाजाताहै।

हिन्दूधर्ममेंव्रतपरंपराऔरदेवस्मरणमानवकोप्रकृतिकेनियमऔरव्यवस्थाओंसेजोड़करजीवनकोसुखीऔरस्वस्थ्यरखनेकाबेहतरीनउपायमानेगएहैं।यहीकारणहैहरमाह,तारीखववारअनेकदेवी-देवताकीपूजा-उपासनाकोसमर्पितहैं।इसीकड़ीमेंसावनमाहवसोमवारकादिनभगवानशिवकीपूजा-आराधनाकाविशेषकालहै।सावनमासकोश्रावणभीकहतेहैं,जिसकाअर्थहैसुनना।इसलिएयहभीकहाजाताहैइसमहीनेमेंसत्संग,प्रवचनवधर्मोपदेशसुननेसेविशेषफलमिलताहै।

-पं.किशनचंदवशिष्ठ,पुजारी,श्रीगोंसाईंमंदिरकुतुबपुर।