साढ़े सात साल पहले लूटपाट व हत्या के मामले में तीनों आरोपित बरी

जागरणसंवाददाता,पूर्वीदिल्ली:

साढ़ेसातसालपहलेदिलशादगार्डनइलाकेमेंसाइकिलसवारव्यक्तिकीलूटपाटकाविरोधकरनेपरहत्याकरदीगईथी।इसमामलेमेंकड़कड़डूमाकोर्टनेसाक्ष्योंकेअभावमेंतीनोंआरोपितोंकोबरीकरदियाहै।इसमामलेमेंसीमापुरीथानेमेंकेसदर्जकियागयाथा।

दिलशादगार्डनकेआर-पाकेटमें30जून2013कोएकशख्सजख्मीहालतमेंफुटपाथपरपड़ेथे।साइकिलउनकेऊपरगिरीहुईथी।उसीरास्तेसेघरलौटरहेकांस्टेबलराजेंद्रनेपुलिसकंट्रोलरूमकोसूचनादीथी।इसकेबादउन्हेंइलाजकेलिएजीटीबीअस्पतालपहुंचायागया,जहांडाक्टरोंनेउन्हेंमृतघोषितकरदिया।बादमेंमृतककीपहचानरमेशचंदसैनीकेरूपमेंहुईथी।इसमामलेमेंलूटपाटऔरहत्याकामुकदमादर्जहुआथा।सूचनाकेआधारपरपुलिसनेआरोपितविशाल,राहुलऔरहितेषकोगिरफ्तारकियाथा।पूछताछमेंतीनोंनेबतायाथाकिरमेशचंदसैनीलूटपाटकाविरोधकररहाथा,इसकारणउसकागलाउस्तरेसेकाटदियाथा।पुलिसनेआरोपितोंकीनिशानदेहीपरहत्यामेंइस्तेमालहुआउस्तराऔरकपड़ेबरामदहोनेकादावाकियाथा।पुलिसनेजांचमेंपायाथाकिआरोपितराहुलनेलूटेगएमोबाइलकेलिएसिमखरीदीथी।अभियोजनपक्षनेकोर्टमेंपूरीघटनाबताई।आरोपितोंकीपैरवीकररहेअधिवक्तानेकोर्टमेंकहाकितीनोंकोइसमामलेमेंगलतफंसायागयाहै।जोकपड़ेऔरउस्तराबरामददिखायागयाहै,वहउनकानहींहै।अतिरिक्तसत्रन्यायाधीशनवीनगुप्ताकीकोर्टनेसाक्ष्योंकेअभावमेंतीनोंआरोपितोंकोबरीकरदिया।

पुलिसकीजांचपरउठेसवाल

आरोपितोंकेबरीहोनेसेसीमापुरीपुलिसकीजांचपरसवालखड़ेहोगएहैं।आरोपितोंकेकबूलनामेकेबादभीपुलिसऐसेसाक्ष्यनहींजुटापाई,जोकोर्टमेंटिकपाते।