रजबाहे से मिली नौजवान की लाश

संवादसूत्र,दोदा(श्रीमुक्तसरसाहिब)

दोदाकेआसाबुट्टरकाऊनीरजबाहेमेंएकनौजवानकीलाशमिलीहै।लाशकोकिसीराहगीरनेदेखकरपुलिसकोइसकीसूचनादी।पुलिसनेलोगोंकीमददसेलाशकोरजबाहेसेबाहरनिकाला।मृतककीपहचानइंद्रजीतसिंहपुत्रनछत्तरसिंहवासीबठिडारोडमुक्तसरकेरूपमेंहुई।लाशकीपहचानमृतककीपत्नीमनप्रीतकौरनेमौकेपरपहुंचकरकी।पुलिसनेलाशकोगिद्दड़बाहाकेसिविलअस्पतालमेंपोस्टमार्टमकेलिएभेजदियागया।मृतककीपत्नीनेबतायाकिउसकापतिनशाकरनेकाआदिथा।वहअक्सरहीनशेकीतलाशमेंअपनेदोस्तोंकेसाथदोदाकीतरफचलाजाताहै।उसनेबतायाकिदोदिनपहलेभीउसकापतिअपनेदोस्तोंकेसाथगयाथा।

ਪੰਜਾਬੀਵਿਚਖ਼ਬਰਾਂਪੜ੍ਹਨਲਈਇੱਥੇਕਲਿੱਕਕਰੋ!