राजस्थान में 70 दलित परिवारों का आरोप, बुनियादी जरूरतों से किया गया दूर

जयपुरराजस्थानकेकालुंदीगांवमेंकथिततौरपरजातिगतभेदभावकामामलासामनेआयाहै।यहांरहनेवालेकरीब70दलितपरिवारोंकाआरोपहैकिउनकीजातिकेचलतेउन्हेंबुनियादीजरूरतोंसेभीदूरकरदियागयाहै।गांवमेंदबंगोंकीचलरहीहैऔरपानीजैसीजरूरीचीजोंतकभीउन्हेंपहुंचनेनहींदियाजारहाहै।पुलिसनेइसमामलेमेंकेसदर्जकरनेकेसाथहीकार्रवाईकाभरोसादिलायाहै।राजस्थानकेइसगांवमेंदलितपरिवारोंनेभेदभावकेआरोपलगातेहुएकहाकिजातिकेआधारपरउन्हेंमूलभूतजरूरतेंभीपूरीनहींकरनेदीजारहीहैं।दलितअपनीजरूरतोंकेलिएएकसाथबैठेहैंऔरपुलिसनेइसमामलेकोसंज्ञानमेंलियाहै।पुलिसकाकहनाहैकिइसमामलेमेंशिकायतदर्जकरलीगईहैऔरगांवके16लोगोंकोमामलेमेंनामजदकियागयाहै।पुलिसकाकहनाहैकिइसकीनिष्पक्षजांचकीजाएगी।इसमुद्देपरराजस्थानकेराज्यगृहमंत्रीगुलाबसीकटारियानेभीसख्तरुखअपनायाहै।उन्होंनेकहा,'कानूनकेमुताबिकहरव्यक्तिकोअपनेअधिकारोंकेसाथजीनेकाअधिकारहैऔरअगरमूलअधिकारोंसेकिसीकोवंचितकियागयाहैतोमैंइसकेखिलाफसख्तकार्रवाईकरूंगा।'