पुलिस केन्द्र के लिए जमीन अधिग्रहण में फंसा पेंच

मधुबनी।पुलिसकेन्द्र,मधुबनीकेलिएजमीनअधिग्रहणकेमामलेमेंपेंचफंसगयाहै।वर्तमानमेंजिसजमीनपरपुलिसकेन्द्रसंचालितकियाजारहाहै,उसीजमीनकोपुलिसकेन्द्रकेलिएअधिग्रहणकरनेकीप्रक्रियाविगतदोवर्षोंसेचलरहीथी।लेकिनइसबीचएकवकालतननोटिसनेअधिग्रहणप्रक्रियामेंपेंचफंसादियाहै।हालांकिवकालतननोटिसप्राप्तहोनेकेउपरांतजिलापदाधिकारीशीर्षतकपिलअशोकनेराजस्वएवंभूमिसुधारविभागकेप्रधानसचिवकोपत्रभेजाहै।इसपत्रकेमाध्यमसेपुलिसकेन्द्र,मधुबनीकेनिर्माणहेतुवर्तमानमेंअवस्थितपुलिसकेन्द्रमौजा-भौआड़ा,थानानं.-62,रकवा-17.876एकड़काप्रस्तावितभूमिअर्जनहेतुदिशा-निर्देशकीमांगकीहै।

विभागकोभेजेगएपत्रमेंडीएमनेउल्लेखकियाहैकिपुलिसकेन्द्र,मधुबनीकेलिएभूमिअर्जनहेतुरहिकाकेअंचलाधिकारीसेप्रस्तावकीमांगकीगईथी।अंचलाधिकारी,रहिकाद्वाराउपयुक्तसरकारीभूमिउपलब्धनहींरहनेकेकारणवर्तमानमेंचलरहेपुलिसकेन्द्रमौजा-भौआड़ामें17.876एकड़रैयतीभूमिकेअर्जनकाप्रस्तावउपलब्धकरायागया।उक्तभूमिदरभंगामहराजकेवंशजकाथा,जोकुलतीनकेवालाद्वाराअशोककुमार¨सह,इनकीपत्नीपूनमदेवीएवंपुत्रअभिषेकअशोककुमारकेनामसेप्राप्तहै।उक्ततीनोंकेवालाधारीद्वारापुलिसकेन्द्र,मधुबनीकेलिएभूमिअर्जनहेतुअपनीसहमतिभीदियाजाचुकाहै।उक्तप्रस्तावकेआलोकमेंभूमिअर्जनकीप्रक्रियाआरंभकीगई।आद्री,बिहार,पटनासेसामाजिकप्रभावकाआकलनभीकरायाजाचुकाहै।सामाजिकप्रभावकेआकलनकामूल्यांकनहेतुविशेषज्ञसमूहकागठनभीकियाजाचुकाहै।लेकिनइसबीचखेतानएंडको.द्वारावकालतननोटिसद्वारासूचितकियागयाहैकिप्रस्तावितभूमिपरउच्चन्यायालय,कोलकातामेंविभिन्नवादयथा-जीएनं.-1312/2016,आरभीडब्ल्यूओनं.-14/2016,जीएनं.-3923/2015,एपीओटीनं.-588/2015,जीएनं.-60/2014तथापीएलएनं.-18/1963चलरहाहै।उक्तसभीवाददरभंगामहाराज,दरभंगाकेवसीयतदिनांक-01.07.1961सेसंबंधितहै,जिसमेंपुलिसकेन्द्र,मधुबनीहेतुअर्जितकीजानेवालीप्रस्तावितभूमिकास्वत्वविवादकामामलाभीशामिलहै।

उक्तमामलेकेमद्देनजरहीसमाहर्ताशीर्षतकपिलअशोकनेराजस्वएवंभूमिसुधारविभागकेप्रधानसचिवकोपत्रभेजकरउक्तपरिस्थितिमेंउक्तभूमिकाअर्जनकरनेहेतुअग्रेतरकार्रवाईकेसंबंधमेंदिशा-निर्देशदेनेकाअनुरोधकियाहै।अबपुलिसकेन्द्र,मधुबनीकेलिएउक्तप्रस्तावितभूमिकेअर्जनहेतुअग्रेतरकार्रवाईकरनेकेलिएविभागीयदिशा-निर्देशकीप्रतीक्षाकीजारहीहै।विभागीयदिशा-निर्देशप्राप्तहोनेकेबादतदनुकूलअग्रेतरकार्रवाईकीजाएगी।जिलासमाहर्तानेउक्तमामलेमेंविधिविभागकेसचिवसहविधिपरामर्शीसेकानूनीपरामर्शदेनेकाभीअनुरोधकियाहै।वहींउक्तमामलेसेनिदेशक-भूअर्जन,गृहआरक्षीविभागकेविशेषसचिव,पुलिसअधीक्षक,मधुबनीकोभीआवश्यककार्यहेतुअवगतकरादियागयाहै।