प्रवासी मजदूर बने प्रशासन के लिए चुनौती, खोज रहे हिस्ट्री

बस्ती:जिलेमेंकोरोनावायरसकाकहरजारीहै।संक्रमणशहरसेगांवपहुंचातोवायरसनेअपनाप्रभावदिखानाशुरूकरदिया।मुंबई,दिल्ली,गुजरातसमेतविभिन्नराज्योंसेलौटेप्रवासीमजदूरसंक्रमणकीचपेटमेंआरहेहैं,जोप्रशासनकेलिएचुनौतीबनगएहैं।जिलाप्रशासनसमेतस्वास्थ्यविभागमजदूरोंकीहिस्ट्रीखोजनेमेंजुटगयाहैं।

मंगलवारको50नएमामलेसामनेआनेकेबादपूरेजिलेकेलोगदहशतजदाहैं।12मईकोमुंबईकेसीएसटीसेबस्तीपहुंचीट्रेनसंख्या09167मेंकोचसंख्या98201केसीटनंबर57,58परएकव्यक्तिनिवासीग्राममैनपुर,पोस्टपौसाराथानागोसाईगंजजिलाअयोध्यामृतपायागयाथा।शवकोलखनऊमेंउतारागयाथा।मृत्युकाकारणस्पष्टनहोनेकेचलतेकोचमेंसवारकरीब70लोगोंकोमेडिकलकालेजबस्तीमेंक्वारंटाइनकरदियागयाथा।कोरोनाजांचकेलिएसैंपललियागयाथा।बतायाजारहाहैकिउसमेंसे37कीरिपोर्टपॉजिटिवआईहै।इसकेअलावातीनसरलाइंटरनेशनलस्कूलमें,दोमझौआविक्रमजोतमेंक्वारंटाइनथे।शेषआठसंक्रमितट्रकवबाइककेजरियेजिलेमेंपहुंचेथे।मंडलायुक्तअनिलकुमारसागरलेवल-वनअस्पतालजवाहरनवोदयविद्यालयमेंपहुंचकरजायजालिए।पूरीएहतियातबरतनेकेनिर्देशदिए।एसडीएमनीरजपटेल,तहसीलदारप्रमोदकुमार,सीओजर्नादनदूबे,ईओअवनीशकुमारसिंहमौजूदरहे।

जिलाधिकारीआशुतोषनिरंजननेबतायाकिजिलेमें104संक्रमितोंमेंसे74सक्रियमरीजहैं,जिनकाउपचारचलरहाहै।स्थितिनियंत्रणमेंहै।लोगधैर्यबनाएरखे।