प्रदान पद के लिए दौड़ शुरू, बहुमत के कारण विधायक की मुश्किलें बढ़ीं

धरमिदरसिंह,मंडीगोबिदगढ़

लोहानगरीकीनगरकौंसिलपंजाबकीसबसेअमीरकौंसिलहै।क्योंकि,इसकौंसिलकाबजटकरीब70करोड़है।कौंसिलकेपासविकासकार्योकेलिएकरीब115करोड़फंडमुहैयाहैं।एश्रेणीकीइसकौंसिलकीप्रधानगीकेलिएदौड़तेजहोगईहै।प्रधानगीकेदावेदारअपनेसियासीआकाओंकेदरबारपहुंचचुकेहैंऔरअपनीअपनीताकतझोंककरहाटसीटपरबैठनेकेलिएजोर-अजमाइशकरनेमेंजुटगएहैं।29मेंसे19पार्षदबनाकरप्रचंडबहुमतलेनेवालीकांग्रेसकेविधायककाकारणदीपसिंहकीभीप्रधानगीकोलेकरमुश्किलेंबढ़ीहुईहैं।यहीकारणहैकिवीरवारकोसभीपार्षदोंकोसम्मानितकरतेसमयविधायकनेकहाकिवेपांचपदबनाकरसभीकोएडजस्टकरनेकीप्लानिगमेंहैं।

सबसेमजबूतदावेदारोंमेंवार्डनंबरचारसेनिर्विरोधजीतेहरप्रीतसिंहप्रिसऔरवार्डनंबर28सेनिर्विरोधजीतेनरिदरकौशलमानेजारहेहैं।प्रिसकैबिनेटमंत्रीबलवीरसिंहसिद्धूकेकरीबीहैंऔरविधायककाकारणदीपसिंहकेभीखासमखासहैं।उनकेपरिवारकाइलाकेमेंसियासीवसामाजिकदबदबाभीहै।जिसकेचलतेउनकानाममजबूतदावेदारोंमेंपहलीकतारमेंहै।कौशलभीविधायककेखासहैं।इनकीभीअच्छीपैठहोनेकेचलतेउन्हेंप्रधानपददेनेपरविचारचलरहाहै।इसकेअलावावर्ष2015मेंमहिलाकेलिएआरक्षितरखेगएइसपदपरफिरसेमहिलाकोबिठानेकेलिएभीजोरलगायाजारहाहै।यदियहपदमहिलाकेलिएआरक्षितरहताहैतोमजबूतदावेदारोंमेंलंबेसमयसेकांग्रेससेजुड़ेपरिवारकीपुत्रवधूएवंयुवानेत्रीवंदनाबत्ताकानामआगेचलरहाहै।कैबिनेटमंत्रीविजयइंद्रसिगलाकेकरीबीमानेजातेसंदीपसिंहबलअपनीपत्नीरमनजीतकौरबलकोप्रधानबनानेकेलिएभीजोरलगारहेहैं।प्रधानपदपरअगरपुरुषकाबिजहोताहैतोइससमीकरणमेंउपप्रधानकेलिएदोनोंमहिलापार्षदोंकेनामसामनेआरहेहैं।वरिष्ठताकेआधारपरदेंगेजिम्मेवारी:विधायक

विधायककाकारणदीपसिंहनेकहाकिसभीकोएडजस्टकरनेकेलिएप्लानिगहोरहीहै।उनकेलिएसभीप्रधानहैं।ज्यादापदबनाकरसभीकोजिम्मेवारीदीजाएगी।वरिष्ठताकेआधारपरजिम्मेवारीमिलेगीऔरकिसीसेभेदभावनहींहोगा।वेसभीकोसाथलेकरचलेंगे।