पीएचसी में एक डाक्टर के भरोसे एक लाख की आबादी का इलाज

जागरणसंवाददाता,चंदौली:एकलाखकीआबादीकेइलाजकीजिम्मेदारीमहजएकचिकित्सक,एकफार्मासिस्टऔरएकवार्डब्वायकेसहारेहै।पांचबेडकेअस्पतालमेंएकबेडहीकामकररहा।स्टाफनर्सऔरलैबटेक्नीशियनभीदूसरीजगहड्यूटीकररहेहैं।सैयदराजानगरस्थितनवीनप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रकीस्थितिकोरोनाकालमेंसरकारीअस्पतालोंकोअपडेटकरनेकेविभागकेदावोंकीपोलखोलरही।ऐसानहींकिउच्चाधिकारीसमस्यासेवाकिफनहीं,लेकिनसबकुछजानतेहुएभीमौनहैं।ऐसेमेंइलाकेकेलोगोंकोसंक्रमणकालमेंइलाजकरानेमेंपरेशानीझेलनीपड़रही।

सैयदराजानगरऔरआसपासकेलगभगदोदर्जनसेअधिकगांवोंकेलोगोंकोबेहतरचिकित्सासुविधामुहैयाकरानेकेउद्देश्यसेनवीनप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रकानिर्माणकरायागया।इसपरनगरकेसाथहीआसपासकेगांवोंकेलगभगएकलाखलोगोंकेइलाजकादबावहै।लेकिनसंसाधनोंकीकमीऔरदुश्वारियांहावीहैं।कोरोनाकीचुनौतीसेनिबटनेकेलिएइनअस्पतालोंकीतैयारीअभीस्वास्थ्यविभागकीकार्ययोजनामेंशामिलनहींहोसकीहै।अस्पतालमेंनियुक्तगिनतीकेस्टाफभीफील्डड्यूटीसेनामपरअक्सरगायबहीरहतेहैं।इससेसमस्याबढ़गईहै।

महिलाडाक्टरनहीं

नवीनप्राथमिकस्वास्थ्यकेंद्रमेंसिर्फएकचिकित्सकडाक्टरशैलेंद्रकीनियुक्तिकीगईहै।यहांचिकित्सकोंकेदोपदसृजितहैं।इसमेंएकमहिलाचिकित्सककाभीपदहैलेकिनअभीतकनियुक्तिनहींकीगई।ऐसेमेंमहिलाओंकेइलाजमेंपरेशानीहोतीहै।ओपीडीमेंयदिकोईमहिलामरीजआजाएतोस्टाफनर्सकोहीचिकित्सककीभूमिकानिभानीपड़तीहै।लैबटेक्नीशियनकोअक्सरजिलाअस्पतालऔरडीडीयूरेलवेस्टेशनभेजदियाजाताहै।

अस्पतालकोनगरपंचायतचेयरमैनवीरेंद्रजायसवालनेपिछलेदिनोंगोदलिया।इससेलोगोंमेंअस्पतालमेंकमियांदूरहोनेकीउम्मीदजगीहै।अस्पतालमेंस्टाफकीनियुक्तिऔरसंसाधनोंकेइंतजाममुकम्मलहोनेसेगरीबमरीजोंकेइलाजमेंसहूलियतहोगी।

अस्पतालमेंउपलब्धसंसाधनोंसेकामचलायाजारहाहै।मरीजोंकीसंख्याकेलिहाजसेसंसाधनोंकीजरूरतमहसूसकीजारहीहै।अस्पतालमेंरोजानालगभग50-60मरीजइलाजवस्वास्थ्यपरीक्षणकरानेकेलिएआतेहैं।

डाक्टरशैलेंद्र,प्रभारीचिकित्साधिकारी