पहली सोमवारी पर बोल बम के नारों से गूंजे शिवालय

गोड्डा:पावनसावनमासकीपहलीसोमवारीकोजिलामुख्यालयसहितसुदूरवर्तीग्रामीणक्षेत्रोंकेमंदिरोंमेंश्रद्धालुओंकीभारीभीड़अहलेसुबहसेदेरशामतकलगीरही।इसदौरानमंदिरकेआसपासमेलालगारहाजहांआसपाससेआयेश्रद्धालुओंनेप्रसादसहितमनपसंदवस्तुओंकीखरीदारीकी।शहरकेशिवपुरमोहल्लास्थितप्रसिद्धरत्नेश्वरनाथधाममंदिरमेंआसपासक्षेत्रसेबड़ीसंख्यामेंडाकबमश्रद्धालुओंनेबरारीगंगाघाटसेजललाकरबाबाकोजलाभिषेककिया।डाकबमकीसेवाकोलेकरमंदिरपरिसरमेंशिविरलगाकरघायलकांवरियोंकोगर्मपानी,फलवदवाइयांमुहैयाकराईगई।इसकेअलावागोड्डा-भागलपुरमुख्यपथपरजगह-जगहसेवाशिविरलगायागयाजहांकांवरियोंकोसभीप्रकारकीसुविधाएंमुहैयाकराईगई।रत्नेश्वरधाममंदिरपरिसरसेलेकरनगरपरिषदक्षेत्रतकरोशनीवसड़ककीबेहतरव्यवस्थाकीगयीथी।श्रद्धालुओंकीभीड़कोनियंत्रितकरनेकेलिएमहिला-पुरुषपुलिसबलकीतैनातीकीगयीथी।रातमेंबाबाकाभव्यरुद्राभिषेकयज्ञअनुष्ठानकियागया।अहलेसुबहसेकांवरियोंवश्रद्धालुओंकेआनेकासिलसिलाजारीरहा।इसकेअलावाधमसाय,खटनईस्थितकष्टहरनाथमहादेव,डुमरिया,मोतिया,ककना,सैदापुरसहितसभीमंदिरोंमेंजलाभिषेककोलेकरभीड़लगीरही।पथरगामाप्रखंडकेचिहारीस्थान,योगिनीधामकेबगलगीरधनसुखपहाड़कीचोटीपरअवस्थितमनोकामनानाथमहादेवसहितआसपासक्षेत्रकेसभीशिवमंदिरोंमेंश्रद्धालुओंकीभीड़लगीरही।बसंतरायप्रखंडकेबसंतरायशिवमंदिर,बोदरेश्वरनाथमहादेव,त्रितेश्वरनाथधाममहेशपुर,डेरमा,सनौर,आजमपकरिया,बाघाकोलसहितअन्यमंदिरोंअहलेसुबहसेहीश्रद्धालुओंकीभीड़लगीरही।पोड़ैयाहाट:प्रखंडमुख्यालयसमेतग्रामीणक्षेत्रोंमेंश्रावणमासकीपहलीसोमवारीकोशिवालयोंमेंश्रद्धालुओंकीभीड़लगीरही।प्रसिद्धऐतिहासिकसिंहेश्वरनाथमंदिरमेंआधीरातकेबादसेहीबोलबमकेनारोंसेगूंजायमानहोनेलगा।डाकबमकाबरारीसेसिंहेंश्वरनाथपहुंचनेकासिलसिलाशुरूहोगया।वहींअहलेसुबहसेहीआसपासकेग्रामीणक्षेत्रोंकीमहिलापुरुषसिघेश्वरनाथमेंपूजाकरनेकेलिएपहुंचनेलगे।मंदिरमेंकाफीभीड़थी।

इधरसेवासमितियोंद्वाराडाकबमकीगर्मपानीसेसेवासुश्रुषाकीगई।उनलोगोंकोपूजाकेबादघरतकपहुंचायागया।इसकेअतिरिक्तप्रखंडमुख्यालयस्थितगुड़मेश्वरनाथधाम,सिदबांकपंचायतकेमहड़ीस्थानकेअतिरिक्तनवडीहा,देवडांड़,जामबाद,डांडैआदिशिवालयोंमेंभीश्रद्धालुओंनेभक्तिभावसेपूजा-अर्चनाकी।

वहींपहलीसोमवारीकोएसडीपीओअरविदकुमारनेसुरक्षाव्यवस्थाकीजायजालिया।उन्होंनेवहांपरतैनातदंडाधिकारीसहकारितापदाधिकारीसंजयकुमारसेसारीचीजोंकीजानकारीली।उन्होंनेसभीचौकीदारोंकोमुस्तैदीकेसाथड्यूटीकरनेकोकहा।।तत्पश्चातमेंगर्भगृहमेंजाकरसिंहेश्वरनाथकाभक्तिभावसेपूजाअर्चनाकी।एसडीपीओअरविदकुमारनेमंदिरपरिसरकेश्रावणीमहाकुंभमेंचलरहेआचार्यओमप्रकाशजीमहाराजकेप्रवचनकाभीश्रवणकिया।महागामा:महादेवस्थानप्रांगणमेंसुमनकुमारकीअगुवाईमेंश्रद्लाओंकेफूल,पुष्प,अगरबत्तीआदिकीनिश्शुल्कव्यवस्थाकीगई।मौकेपरनवीनकुमारमहतो,प्रभातजयसवाल,जितेंद्रकुमारमंडल,पंकजकुमार,सानूकुमार,पवनकुमार,लंबोदर,अमन,सूरज,सुजीतआदिश्रद्धालुओंकीसेवामेंतत्परदिखे।ललमटिया:अहलेसुबहसेलोहंडियाबाजार,ललमटिया,सिमड़ा,ढोड़ा,लीलातरी,विरामचककेशिवालयोंमेंबेलपत्रएवंगंगाजलसेपूजाअर्चनाकीहोड़लगीरही।बाबाशालीग्रामपांडेनेबतायाकिफूल,बेलपत्रएवंगंगाजलसेसावनमासमेंभगवानशिवऔरमातापार्वतीकीपूजाअर्चनाकरनेसेमनोवांछितफलकीप्राप्तिहोतीहै।इसकेपीछेएकपौराणिककथाहैकिसमुद्रमंथनसे14रत्नउत्पन्नहुएथे।सभीकीमतीरत्नकाबंटवारासभीदेवीदेवताओंनेकरलियालेकिनजहरबचाहुआथाजिसेशंकरभगवानकोमिला।उसनेउसजहरकोअपनेकंठमेंरखलिए।इससेउसकोकाफीबेचैनीहोनेलगीतबजाकरसभीदेवीदेवताओंनेगंगाजलसेउनकोनहलायाऔरबिल्वपत्रडालेऔरखिलाएजिससेउनकोशांतिमिलीऔरपूरेसंसारकोउससमुद्रमंथनसेउत्पन्नहुएजहरसेमुक्तिमिली।तबसेसभीसुहागिनमाताएंऔरकुंवारीबहनेंसोमवारकाव्रतरखतीहैऔरभगवानशिवकोफूल,बेलपत्रऔरगंगाजलअर्पितकरमनोवांछितफलकीप्राप्तिकीकामनाकरतीहै।मेहरमा:प्रखंडमुख्यालयसहितक्षेत्रकेविभिन्नगांवोंकेशिवमंदिरोंमेंश्रद्धालुओंकीभीड़उमड़पड़ी।इसदौरानश्रद्धालुओंनेउत्तरवाहिनीगंगाकहलगांवसेगंगाजललाकरविभिन्नप्रकारकेफूलबेलपत्रकेसाथशिवलिगपरअर्पितकरसुखसमृद्धिकीकामनाकी।प्रखंडपरिसरस्थितचारमंजिलाशैलेंद्रनाथमहादेवमंदिर,बाजितपुर,सिघाड़ी,फिरोजपुरकसवा,मैनाचक,चंपा,प्रतापपुरमडपा,बलबड्डाआदिगांवोंकेशिवालयोंमेंशिवोपासनाकीधूमलगीरही।कसबास्थितशिवमंदिरप्रांगणमेंरात्रिश्रृंगारपूजाकाभीभव्यआयोजनकियाजाएगा।यहांभजनकीर्तनकारविवारसेहीकियाजारहाहै।