फीस वृद्धि व प्राइवेट प्रकाशकों की किताबों पर स्कूल में बवाल

जागरणसंवाददाता,अंबालाशहर:

फीसवृद्धि,प्राइवेटप्रकाशकोंकीकिताबेंऔरएकहीदुकानसेवर्दीखरीदनेकेलिएमजबूरकरनेकेआरोपलगातेहुएनईअनाजमंडीअंबालाछावनीकेसमीपस्थितस्कूलमेंअभिभावकोंनेबुधवारकोजमकरबवालकाटा।अभिभावकोंकेप्रदर्शनकोध्यानमेंरखतेहुएस्कूलप्रबंधननेसुबहकेसमयहीगेटबंदकरदिए।अपनीगाड़ियोंमेंबच्चोंकोछोड़नेआनेवालेअभिभावकोंकोभीस्कूलगेटमेंघुसनेनहींदियागया।इसीतरहबसोंमेंआनेवालेवअन्यवाहनोंमेंआनेवालेविद्यार्थियोंकोरोडपरहीउतारनापड़ा।जबकियहीसमयघासमंडीमेंआनेवालेट्रैक्टर-ट्रालियोंकाहोताहै।

कानूनव्यवस्थाबनानेकेलिएबुलानीपड़ीपुलिस

अभिभावकोंकेआक्रोशकोदेखतेहुएस्कूलप्रबंधननेमौकेपरपुलिसकोसूचनादीऔरथानापड़ावपुलिसमौकेपरपहुंची।इसदौरानगुस्साएअभिभावकोंकोपुलिसनेशांतकरवानेकाप्रयासकिया।इसकेबादस्कूलप्रबंधनऔरअभिभावकोंकेबीचबातचीतभीहुईलेकिननतीजाशून्यरहा।पुलिसकीदखलकेबादप्रिसिपलकार्यालयखोलागया।पहलेपुलिसवालेअंदरगएऔरपांचअभिभावकोंबादमेंप्रिसिपलसेमिलवायागया।इसदौरानफैसलाहुआकिअभिभावकछहमईकोदोबारासुबह10बजेस्कूलपहुंचेंगे।गुस्साएअभिभावकोंनेकहाकियदिमनमानीबंदनहींकीतोवहनकेवलजिलाशिक्षाअधिकारीबल्किडीसीकोभीस्कूलप्रबंधनकेखिलाफशिकायतकरेंगे।जबकिस्कूलएमडीनेकहाकिमैं13सेपहलेनहींमिलसकता।

मनमानेतरीकेसेस्कूलनेफीसबढ़ादीहै।निजीप्रकाशकोंकीकिताबेंस्कूलमेंलगवादीगईहैंजबकिएनसीइआरटीकीकिताबेंलगवानेकेआदेशहैं।एकहीदुकानसेस्कूलकीवर्दीमिलरहीहै।यहतोमनमानीहै।

साजनसिंह,अभिभावक।

इतनी-इतनीफीसबढ़ादीहैअभिभावककहांसेलेकरआएं।किताबोंऔरवर्दीकेनामपरअभिभावकोंकोलूटाजारहाहै।हमकईबारइसकोलेकरविरोधकरचुकेहैंलेकिनकोईसुनवाईवालानहींहैं।

कुलविद्र,अभिभावक।

पहलेतोकोईहमसेमिलानहींफिरपुलिसपहुंची।तबजाकरप्रिसिपलनेकमराखोलाऔरपांचअभिभावकोंसेबातचीतकी।अबहमछहमईकोएकजुटहोंगे।प्रिसिपलनेफोनपरएमडीसेबातचीतकीतोवहकहरहेथेकिमैं13सेपहलेनहींमिलूंगा।

प्रदीपचहल,अभिभावक

पिछलेसाल10-10हजारवार्षिकशुल्कलियाथाउसेवापसकियाजाएयाइसबारकीफीसमेंएडजेस्टकियाजाए।बढ़ीहुईफीसवापसलीजाएऔरसभीकिताबेंएनसीइआरटीकीलगवाईजाएं।हमारीयहीमांगेहैंइसकेअलावाकोईमांगनहींहैं।

जगतारसिंह,अभिभावक

हमारीतीन-चारदौरकीबैठकहोचुकीहै।हर10-15दिनोंबादअभिभावकऐसाकरनेलगेहैं।हमउन्हेंसमझाचुकेहैंकिहमनेफार्मछहकेअनुसारहीफीसबढ़ाईहै।हमें10प्रतिशततकफीसबढ़ानेकीअनुमतिमिलीहै।इसमेंभीहमनेपूरेस्कूलऔरसभीबसोंकोएसीकरवादिया।इतनाज्यादाडीजलकारेटबढ़गयाहैफिरभीपूरे10फीसदीफीसभीनहींबढ़ाई।कुछअभिभावकोंकोहीज्यादादिक्कतेंहैं।वहींहमसेछूटचाहतेहैंजोकिहमदेनहींसकते।बच्चोंकोलिकरोडपरउतरागयाथाऔरहमारास्टाफवहांपरथा।प्राइवेटप्रकाशकोंकीकिताबोंऔरवर्दीवालीकोईबातनहींहै।अभिभावकचाहेजहांसेवर्दीलेसकतेहैं।

रजनीशजैन,चेयरमैन,इंडियनपब्लिकस्कूल।

स्कूूलमेंफीसवृद्धिऔरबसोंकेकिरायेमेंवृद्धिकोकमकरनेकीमांगकोलेकरअभिभावकस्कूलमेंएकजुटहुएथे।कानूनव्यवस्थाबनाएरखनेकेलिएहीहमवहांगएथे।अभिभावकअबइसमामलेकोलेकर6मईकोएकजुटहोंगे।

सूरजचावला,इंस्पेक्टर,पड़ाव।