पेड़ काटने से बिगड़ रहा है प्रकृति का संतुलन

फीरोजाबाद,जेएनएन।शुक्रवारकोजिलेकेपरिषदीयस्कूलोंमेंपौधरोपणहुआ।शिक्षक-शिक्षिकाओंनेइनकीदेखभालकरनेकीशपथलेतेहुएबच्चोंकोमानवजीवनमेंपेड़ोंकेमहत्वकेबारेमेंजानकारीदी।

टूंडलाकेउच्चप्राथमिकस्कूलबसईमेंपौधरोपणकरतेहुएएबीआरसीजयाशर्मानेकहाकिविकासकेनामपरलगातारपेड़ोंकोकाटाजारहाहै,जिसकारणपर्यावरणकासंतुलनबिगड़रहाहै।प्रधानाध्यापिकाभारतीचौहाननेबच्चोंकोपेड़ोंकेमहत्वकेबारेमेंजानकारीदी।इसदौरानसहायकअध्यापकएलेशअवस्थी,पवनसिंहआदिमौजूदरहे।

इसकेअलावाप्राथमिकविद्यालयनगलाबन्नामेंप्रधानाध्यापिकारजनीदेवी,कृष्णादेवी,मिथलेशदेवीआदिनेपौधरोपणकिया।रामलीलामैदानस्थितप्राथमिकविद्यालयमेंप्रधानाध्यापकहरेंद्रयादवनेपौधरोपणकिया।खैरगढ़ब्लॉकपूर्वमाध्यमिकस्कूलसिकेरियामेंप्रधानसचेंद्रयादवऔरस्कूलकेस्टाफनेपौधरोपणकिया।प्राथमिकस्कूलकुतुकपुरचनौरा,उच्चप्राथमिकस्कूलढोलपुरसहितअन्यस्कूलोंमेंभीपौधरोपणकिया।इसदौरानशिक्षक-शिक्षिकाओंनेबच्चोंकोपेड़ोंकीदेखभालकेलिएशपथदिलाई।