ओम नम: शिवाय: सेक्टर चार शिव मंदिर

सेक्टरचारस्थितहाउ¨सगबोर्डकॉलोनीमेंसातसालपुरानाशिवमंदिरलगातारआस्थाकाकेंद्रबनाहुआहै।यहांसेक्टरचार,हाउ¨सगबोर्डकॉलोनीकेसाथइसकेआसपासकेक्षेत्रोंसेभीकाफीसंख्यामेंश्रद्धालुविभिन्नआयोजनोंमेंयहांआतेहैं।इतिहास:

सेक्टरचारऔरहाउ¨सगबोर्डकॉलोनीवासियोंकेसहयोगसेछहसालपहलेइसमंदिरकीस्थापनाकीगईथी।क्षेत्रकेआसपासकोईमंदिरनहींहोनेकेकारणयहांकेनिवासियोंनेमंदिरकानिर्माणकराया।यहांसेक्टरचारकेसाथहाउ¨सगबोर्डकॉलोनी,कोनसीवासरोड,विजयनगर,सोसायटियोंऔरआसपासकेसेक्टरोंऔरकॉलोनियोंसेभीश्रद्धालुयहांआतेहैं।ऐसेपहुंचे:

कोनसीवासरोडपरस्थितइसमंदिरमेंपहुंचनेकेलिएसेक्टरचारकेलिएऑटोऔरअपनेनिजीवाहनोंसेआसानीसेपहुंचाजासकताहै।पोसवालचौकसेभीइसमंदिरमेंआनेकासीधारास्ताहै।कार्यक्रम:

सावनकेमहीनेमेंसुबह5बजेसेहीमंदिरकेद्वारखुलजातेहैं।सुबहमंगलआरतीकेबादपूजाअर्चनाआरंभहोतीहै।शिवरात्रिपरकांवड़ियोंकेलिएसेवाशिविरलगाएजातेहैं।यहांशिवरात्रि,श्रीकृष्णजन्माष्टमीऔरमहाशिवरात्रिपरहोनेवालेकार्यक्रमआकर्षणकाकेंद्रहैं।पूरेमाहभजन,कीर्तनऔरधार्मिकआयोजनकेचलतेदूरदराजसेभीश्रद्धालुबढ़-चढ़करहिस्सालेतेहैं।

मंदिरमेंसावनमाहआरंभहोनेकेसाथ41दिनतकशिवजीकीजोतजलतीहै।श्रद्धालुओंकोबैठने,पूजाअर्चनाकरनेतथाधार्मिककार्यक्रमोंकेलिएविशेषव्यवस्थाकीजातीहै।सच्चेमनसेमांगीमन्नतअक्सरपूरीहोतीहै।

-पं.संजयकुमारशास्त्री,पुजारी

मेराइसमंदिरकेप्रतिगहरीआस्थाहै।श्रद्धालुओंमेंसच्चेमनसेमांगीमन्नतपूर्णहोनेकीआस्थाअधिकहै।यहांकुछदेरआनेसेमनकोसुकूनमिलनेकेसाथमन्नतपूरीहोतीहै।मेरेसाथकईअन्यसाथीभीनियमितरूपसेमंदिरमेंपूजाअर्चनाकरनेआतेहैं।

-नरेशकुमारअग्रवाल,श्रद्धालु।