नियम 134ए: हरियाणा में अधर में लटका विद्यार्थियों का भविष्य, निजी स्कूल और शिक्षा विभाग के फेर में फंसे

अंबाला,जागरणसंवाददाता। हरियाणामेंबच्चोंकाभविष्यअधरमेंलटकाहुआहै।शिक्षाविभागऔरनिजीस्कूलोंकेफेरमेंजिलेके1146बच्चेफंसगएहैं।अबइनविद्यार्थियोंकाभविष्यइनदोनोंकेबीचअंधकारमयहोतानजरआरहाहै।यहीकारणहैकिइन्हेंलेकरअभिभावकदरदरकीठोकरेंखानेकोमजबूरहै।दरअसलशिक्षाअधिनियम134एकेतहतजिलेभरसे1971विद्यार्थियोंकोसीटअलाटकीगईहैं।लेकिन15जनवरीतकइनमेंसेमात्र825आवेदनहीप्रक्रियामेंलाएगए।इनमेंसेभी249आवेदनतोरिजेक्टहोगए।मात्र575विद्यार्थियोंकोहीदाखिलामिलपायाहै।

आमने-सामनेसरकारऔरनिजीस्कूल

बतादेंकिइसमामलेकोलेकरनिजीस्कूलऔरशिक्षाविभागतोआमनेसामनेहोहीगएहैंसाथहीसीधेतौरपरसरकारकोभीनिजीस्कूलसंचालकोंनेकोर्टमेंघसीटलियाहै।हरियाणाप्रोग्रेसिवस्कूलबनावराज्यसरकारमामलाहाईकोर्टमेंचलरहाहै।इसपरअबअगलीसुनवाई28जनवरीकोहोनीहै।अलबत्ताअब134एकेतहतदाखिलेनएसत्रतकखींचसकतेहैं।क्योंकिज्यादातरनिजीस्कूलफरवरीमाहमेंवार्षिकपरीक्षाआयोजितकरतेहैं।

मान्यतारद्दकरनेकेनोटिसकाभीनहींनिजीस्कूलोंकोभय

डीईओअंबालासुरेशकुमारनेबतायाकिअंबालामेंकरीब30निजीस्कूलोंने1146विद्यार्थियोंकोदाखिलादेनेसेइंकारकियाहै।इनसभीकोजिलाशिक्षाविभागनेकारणबताओनोटिसभेजकरमान्यतारद्दतककरनेकीचेतावनीभीजारीकरदीहैलेकिनइसकाभीइनकोकोईभयनहींहै।सभीस्कूलसंचालकोंनेविभागकेशोकाजनोटिसकाजवाबभीदेदियाहै।हमने30निजीस्कूलोंकोकारणबताओनोटिसजारीकियाहै।हमाराप्रयासहैकिसभीकोदाख़िलादिलवायाजाए।नियमोकीउल्लंघनाकरनेवालेस्कूलोंकीमान्यताभीरद्दकीजासकतीहै।