निर्भया कांड के 6 सालः महिलाओं के लिए अब भी सुरक्षित नहीं दिल्ली, जानें- क्या हुए बदलाव

नईदिल्ली[जागरणस्पेशल]।देशकोझकझोरदेनेवालेनिर्भयाकांडकोछहसालपूरेहोचुकेहैं।16दिसंबर2012कीसर्दरातएकचलतीबसमेंपांचदरिंदोंने23वर्षीयनिर्भयाकेसाथबरबरतापूर्वकसामूहिकदुष्कर्मकिया।निर्भयाइसदर्दसे13दिनतकलड़तीरहीऔरअंतमेंसिंगापुरमेंइलाजकेदौरानदमतोड़दिया।निर्भयाकांडकेबादराजधानीदिल्लीसमेतदेशभरमेंमहिलाओंकीसुरक्षाऔरनिर्भयाकोइंसाफदिलानेकेलिएधरने-प्रदर्शनहुए।इसकेबादकईनियम-कानूनबने।पुलिसकेलिएबहुतसेदिशा-निर्देशजारीकिएगए।बावजूददिल्लीमेंमहिलाओंकीसुरक्षाआजभीसवालोंकेघेरेमेंहै।जानें,देशकोझकझोरनेवालेनिर्भयाकांडकेबादक्याहुएबदलाव...?

निर्भयाकांडकेबादमहिलाओंसंगछेड़छाड़औरदुष्कर्मजैसेमामलोंमेंकानूनऔरसख्तकरदियागया।बावजूदराष्ट्रीयअपराधरिकॉर्डब्यूरो(एनसीआरबी)केवर्ष2016-17केआकंड़ोंमेंमहिलासंबंधीअपराधोंमेंअकेलेदिल्लीमें160.4फीसदकाइजाफारिकॉर्डकियागया।वहींपूरेदेशमें55.2फीसदकाइजाफाहुआ।विभिन्नमीडियासंस्थानोंऔरएजेंसियोंद्वारानिर्भयाकांडकेबादवक्त-वक्तपरआममहिलाओंवयुवतियोंसेदिल्लीकीसुरक्षाकोलेकरबातचीतकीगई।

सबकीएकरायहैकिदिल्लीमेंअबभीकुछनहींबदलाहै।दिल्लीअबभीमहिलाओंकेलिएसुरक्षितनहींहै।अबभीदिनढलनेकेबादउन्हेंदिल्लीकीसड़कोंपरअकेलेनिकलनेमेंडरलगताहै।ऑफिसयामार्केटसेघरपहुंचनेमेंथोड़ीदेरीहोतोघरवालोंकीचिंताबढ़जातीहै।ज्यादातरनेबतायाकिशामहोनेकेबादवहअकेलेबाहरनिकलनेकीजगहकिसीपुरुषमित्रयापरिजनकोसाथरखतीहैं।

दिल्लीकेपॉशएरियामेंरहनेवालीफैशनडिजाइनलीनासहगलकेअनुसारनिर्भयाकांडकेबाददावेतोबड़े-बड़ेकिएगए,लेकिनसरकारऔरअधिकारीशायदउनवादोंकोपूराकरनाभूलगए।आलमयेहैकिरातहीनहींदिनकेवक्तभीऑटोयाकैबमेंअकेलेसफरकरनेसेपहलेलड़कियोंकोकईबारसोचनापड़ताहै।आएदिनउनकेसाथऑटोयाकैबमेंछेड़छाड़केमामलेसमाचारोंकीसुर्खियांबनतेहैं।मानों,किसीमेंकानूनकाकोईडरहीनहींहै।ऐसेमेंकानूनसख्तकरनेकाभीक्याफायदा।

पश्चिमीदिल्लीकेएकपॉशएरियामेंरहनेवालीडीयूछात्रामनीषाजैनकहतीहैंकिलोगोंमेंकानूनकाडरक्योंहोगा?नतोकानूनमेंत्वरितऔरआसानसुनवाईहैऔरनहीतुरंतकार्रवाईहोतीहै।मसलनअगरकिसीलड़कीकेसाथछेड़छाड़होतोपुलिसमेंशिकायतकरनाऔररिपोर्टदर्जकरानाआजभीएकजटिलप्रक्रियाहै।किसीतरहरिपोर्टदर्जभीकरालेंतोकोईभरोसानहींकिउसपरत्वरितकार्रवीहोगी।पुलिसउसेतुरंतगिरफ्तारभीकरलेतोपतानहींवहकितनेदिनजेलमेंरहेगा।होसकताहैउसे24घंटेकेअंदरहीजमानतमिलजाएऔरवहफिरखुलेआमघूमनेलगे।इसकेबादपीड़ितासालोंइंसाफकेलिएकोर्टकेचक्करकाटतीरहतीहै।इसदौराननतोउसेकोईसुरक्षामिलतीहैऔरनहीकिसीकासाथ।

नोएडामेंरहनेवालीऔरदिल्लीकीएकMNCमेंकामकरनेवालीनिशाकहतीहैंकिऐसानहींहैकिपुलिसयाकानूननेमहिलासंबंधीअपराधोंमेंकामकरनाबंदकरदियाहै।पुलिसऔरकोर्टअपनाकामकरतीभीहैतोप्रक्रियाहीबहुतलंबीऔरथकाऊहै।सख्तकानूनकोसख्तीसेलागूकरनेकेलिएसिस्टमकोदुरुस्तऔरस्पीडअपकरनेकीजरूरतहै।इससेअपराधियोंमेंडरबैठेगा।साथहीलोगोंकाभीकानूनपरभरोसाबढ़ेगा।

महिलापुलिसकर्मियोंकीकमी

दिल्लीसमेतदेशकेज्यादातरराज्योंमेंमहिलापुलिसकर्मियोंकीबेहदकमीहै।निर्भयाकांडकेबादगठितवर्माकमीशननेमहिलासंबंधीअपराधोंकीजांचकेलिएमहिलापुलिसकर्मियोंकीसंख्याबढ़ानेपरजोरदियाथा।इसकेबाददिल्लीमें33फीसदमहिलापुलिसकर्मियोंकीभर्तीकरनेकादावाकियागया।मार्च2015मेंइसेमंजूरीमिलीऔरमहिलापुलिसकर्मियोंकीसंख्याबढ़कर4582पहुंचगई,जोसाल2011में3572थी।बावजूददिल्लीपुलिसमेंमहिलापुलिसकर्मियोंकीसंख्यामहजनौफीसदहीपहुंचीहै।बाकीराज्योंमेंहालातऔरखराबहै।ब्यूरोऑफपुलिसरिसर्चएंडडिवेलपमेंट(BPRD)कीरिपोर्टमेंभीकहागयाहैकि20फीसदमहिलापुलिसकर्मियोंकाप्रतिनिधित्वहोनेपरपुलिसव्यवस्थाथोड़ीबेहतरहोसकतीहै।

निर्भयाकांडकेबाददिल्लीकीस्थिति

-2012मेंदुष्कर्मके706मामलेदर्जकिएगए।2014मेंइनमेंतीनगुनाइजाफाहुआऔरआंकड़ा2166पहुंचगया।2015मेंभीदुष्कर्मके2199मामलेदर्जहुए।सालदरसालदुष्कर्मकेमामलोंमेंइजाफाहोरहाहै।

-महिलासंबंधीअन्यअपराधोंमेंभी50फीसदसेज्यादाकाइजाफारिकॉर्डकियागयाहै।2012मेंऐसे208मामलेदर्जहुएथे,जो2015मेंबढ़कर1492होगए।

-निर्भयाकांडकेबाददिल्लीपुलिसनेमहिलाअधिकारियोंकीतैनातीकरकुल161हेल्पडेस्कबनाएगए।हालांकिइनपरभीसहीसेकामनकरनेकेआरोपलगतेरहेहैं।

-महिलाहेल्पडेस्कमेंतैनातपुलिसकर्मियोंकोपीड़ितासेबातकरनेवमददकरनेकेलिएकोईविशेषप्रशिक्षणभीनहींदियाजाताहै।

-निर्भयाकांडकेबादपुलिसऔरसार्वजनिकपरिवहनकेवाहनोंमेंजीपीएसलगानेऔरउनपरनजररखनेकीबातअगस्त2014मेंलोकसभामेंएकसवालकेजवाबमेंकहीगईथी।हालांकियेअबतकपूरानहींहुआ।

-निर्भयाकांडकेबादमहिलाहेल्पलाइनमेंपेशेवरकाउंसलर्सकीभर्तीकेलिए6.2करोड़काबजटआरक्षितकियागयाथा।इसमेंअबतकखासप्रगतिनहींहुई।

-महिलाओंऔरबच्चोंकेप्रतिहोनेवालेअपराधोंकीसुनवाईकेलिए23.5करोड़रुपयेकेफंडसेअलगबिल्डिंगबनाईजानीथी।

-महिलाओंकेप्रतिहोनेवालेअपराधोंपरइमरजेंसीरिस्पॉसप्रोजेक्टकेलिए322करोड़रुपयेकाबजटरखागयाथा।

-देशके114शहरोंवअपराधबाहुल्यजिलोंमेंविशेषइंतजामकिएजानेथे,लेकिनयेप्रोजेक्टशुरूनहींहोसका।

दिल्लीमेंमहिलाओंकेलिएहेल्पलाइननंबर

दिल्लीपुलिसकंट्रोलरूम-100

महिलाहेल्पलाइन-1091

अश्लीलताकेखिलाफहेल्पलाइन-1096

अन्यसमस्याओंकेलिए-181

निर्भयाकीमांनेकहाकुछनहींबदला

जुलाई2018मेंएकमीडियासंस्थानकोदिएगएसाक्षात्कारमेंनिर्भयाकीमांनेकहाथाकिअबभीकुछनहींबदला।कमसेकमलड़कियोंकेलिएतोकुछभीनहींबदला।आजभीप्रतिदिनकहींनकहींहरघंटेऐसीघटनाएंहोरहीहैं।दिल्लीसमेतदेशकेअन्यशहरोंमेंभीलड़कियांअबभीसुरक्षितनहींहैं।इसकेलिएसबसेज्यादाजिम्मेदारहमारीन्यायव्यवस्थाहै।चाहेजितनेभीकानूनबनजाएं,अगरन्यायव्यवस्थामेंदेरीहोतीहैतोउसकाकोईफायदानहींहोगा।निर्भयाकेमामलेकोहीलें,यहमामला2014मेंसुप्रीमकोर्टपहुंचाथाऔरअबभीकानूनीप्रक्रियामेंलटकाहै।न्यायमेंदेरीकानूनकाडरखत्मकरदेतीहै।

निर्भयाकीमांकेअनुसार'मेरीबेटीकेसाथइतनाघिनौनाअपराधहुआ।मेरीबच्चीमरगई।पूरदेशजानताहैकिउसरातमेरीबच्चीकेसाथक्याहुआथा।जांचपूरीहोचुकीहै।पूराकेसशीशेकीतरहसाफहै।फिरभीआरोपियोंकोसजादेनेमेंइतनेसाललगगएऔरअभीपतानहींकितनेऔरसाललगेंगे।'

क्याहुआनिर्भयाफंडका...?

-2012केनिर्भयाकांडकेबादनिर्भयाफंडशुरूकियागया।सरकारनेदुष्कर्मपरकड़ाकानूनबनाया।2013मेंसरकारनेइसफंडमें1000करोड़रुपयेकीराशिडालनीशुरूकरदी।

-इसफेडकेलिएभारतसरकारकेमहिलाएवंबालविकासमंत्रालयकोनोडलएजेंसीबनायागयाथा।

-मार्च2017तकनिर्भयाफंडमें2348.85करोड़रुपयेजमाहोचुकेथे।

-राशिकेउपयोगकेलिए16प्रस्तावोंमें14कोमंजूरकियागयाऔरउसकेलिए2047.85करोड़रुपयेकाबजटपासहुआ।

-मार्च2017तकविभिन्नमंत्रालयोंनेमात्र554.44करोड़रुपयेकाबजटखर्चकरनेकाब्योरादियाथा।लिहाजाइसकेइस्तेमालपरभीसवालखड़ेहोतेहैं।

निर्भयाकांडकेबादसख्तहुआकानून

-सुप्रीमकोर्टकेपूर्वचीफजस्टिसजेएसवर्माकीअगुवाईमेंमहिलासुरक्षासंबंधीकानूनोंकोसख्तकरनेकेलिएतीनसदस्यीयटीमबनीऔरसिफारिशेंमांगीगई।

-वर्माकमिशनने29दिनोंमें631पेजकीरिपोर्ट22जनवरी2013मेंसरकारकोसौंपदीथी।

-कमिशनकीसिफारिसपरसंसदमेंबिलपासकरादोअप्रैल2013कोनोटिफिकेशनजारीकरदियागया।

-नएकानूनमेंदुष्कर्मकेकारणअगरकोईमहिलामरणासन्नअवस्थामेंपहुंचतीहैयामौतहोजातीहै,तोफांसीतककीसजाहोसकतीहै।

-जबरनशारीरिकसंबंधबनानेकेसाथयौनाचारऔरदुराचारकोभीदुष्कर्मकेदायरेमेंलायागया।इसमेंमहिलाकोआपत्तिजनकतरीकेसेछूनाभीशामिलहै।

-पीड़िताकीउम्रअगर18वर्षसेकमहैतोउसकीसहमतिसेबनायागयासंबंधभीदुष्कर्मकीश्रेणीमेंआताहै।

-अबदुष्कर्मकेमामलोंमेंसातसालसेलेकरउम्रकैदतककीसजाकाप्रावधानहै।

-सामुहिकदुष्कर्ममें20सालसेआजीवनकारावासतककीसजाकाप्रावधानहै।

-दोबारादुष्कर्मयासामूहिकदुष्कर्मकेआरोपीकोउम्रकैदसेफांसीतककीसजाकाप्रावधानहै।

-छेड़छाड़कीसजादोसालसेबढ़ाकरपांचसालकरदीगईहै।इसमेंसेएकवर्षतकजमानतनहींहोसकती।

-महिलापरआपराधिकबलप्रयोगकरकपड़ेउतारनेपरमजबूरकरनेयाजबरनउतारनेयाकिसीऔरकोउकसानेपरतीनसेसातसालतककीसजाकाप्रावधानहै।

-महिलाकापीछाकरनेयाउसेगलतनीयतसेजानबूझकरछूनेकाप्रयासकरनेपरतीनसालतककीसजाकाप्रावधानहै।