निर्भया गैंगरेप: फांसी के खिलाफ दोषियों की रिव्यू पिटीशन पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आज

नईदिल्ली:देशकोहिलाकररखदेनेवालेनिर्भयागैंगरेपमामलेमेंआजसुप्रीमकोर्टअपनाफैसलासुनाएगी.इसकेसमेंसुप्रीमकोर्टनेचारदोषियोंमुकेश,पवनगुप्ता,विनयशर्माऔरअक्षयकुमारसिंहकोफांसीकीसजासुनाईथीजिसकेखिलाफतीनदोषियोंनेसुप्रीमकोर्टकेसामनेपुनर्विचारयाचिकादायरकीथी.एकदोषीअक्षयकुमारसिंहनेपुनर्विचारयाचिकादाखिलनहींकीथी.प्रधानन्यायाधीशन्यायमूर्तिदीपकमिश्रा,न्यायमूर्तिआर.भानुमतिऔरन्यायमूर्तिअशोकभूषणकीपीठविनयशर्मा,पवनगुप्ताऔरमुकेशसिंहकीयाचिकाओंपरदोपहरदोबजेफैसलासुनाएगी

अक्षयकुमारसिंहकेवकीलएपीसिंहनेकहा,‘‘अक्षयनेअबतकपुनर्विचारयाचिकादायरनहींकीहै.हमइसेदाखिलकरेंगे.’’शीर्षअदालतनेअपने2017केफैसलेमेंदिल्लीउच्चन्यायालयऔरनिचलीअदालतद्वारा23वर्षीयपैरामेडिकलछात्रासे16दिसंबर2012कोसामूहिकबलात्कारऔरहत्याकेमामलेमेंउन्हेंसुनाईगईमौतकीसजाकोबरकराररखाथा.

दोषियोंनेपीड़ितलड़कीसेदक्षिणीदिल्लीमेंचलतीबसमेंसामूहिकबलात्कारकियाथाऔरगंभीरचोटपहुंचानेकेबादसड़कपरफेंकदियाथा.सिंगापुरकेमाउन्टएलिजाबेथअस्पतालमें29दिसंबर2012कोइलाजकेदौरानउसकीमृत्युहोगईथी.

आरोपियोंमेंसेएकरामसिंहनेतिहाड़जेलमेंकथिततौरपरआत्महत्याकरलीथी.आरोपियोंमेंएककिशोरभीशामिलथा.उसेकिशोरन्यायबोर्डनेदोषीठहराया.उसेतीनसालसुधारगृहमेंरखेजानेकेबादरिहाकरदियागयाथा.

कबक्याहुआ?

23वर्षीयापैरामेडिकलछात्राकेसाथ16दिसंबर,2012कोचलतीबसमेंगैंगरेपकियागयाथा

16दिसंबरकीरातपांचदरिंदोंने23वर्षीयानिर्भयाकेसाथक्रूरतमतरीकेसेसामूहिकदुष्कर्मकियाथा

जिसकेचलते13दिनोंबादसिंगापुरकेएकअस्पतालमेंउसकीमौतहोगईथी

दुष्कर्मकीइसघटनाकेप्रतिदेशभरमेंगुस्साऔरविरोधप्रदर्शनदेखनेकोमिलाथा

निर्भयानेमौतसे13दिनतकजूझतेहुएइलाजकेदौरानसिंगापुरमेंदमतोड़दियाथा

इसभयानकहादसेकेबादराजधानीको‘दुष्कर्मकीराजधानी’कीसंज्ञादीजानेलगी.

राष्ट्रीयअपराधरिकॉर्डब्यूरोद्वारा2016-17केआंकड़ोंकेमुताबिक,दिल्लीमेंअपराधकीउच्चतमदर160.4फीसदीरही

2016-17कीअवधिकेदौरानअपराधकीराष्ट्रीयऔसतदर55.2फीसदीरहा

2016-17कीअवधिमेंदिल्लीमेंदुष्कर्मके2,155मामलेदर्जहुए

669पीछाकरनेकेमामलेऔर41मामलेघूरनेकेलगभग40फीसदीकेसदर्जहुए