मिलिए चंडीगढ़ पुलिस इंस्पेक्टर नरेंदर पटियाल से, गरीब बेटियों को दी साइकिल, स्कूल ड्रेस और अन्य सामान ताकि न रुके पढ़ाई

कुलदीपशुक्ला,चंडीगढ़।शिक्षाएकमात्रऐसारास्ताहैजोदेशकोउन्नतिकीतरफलेजाताहैऔरहमारीसोचकोसहीदिशादेताहै।देशमेंकईऐसेलोगहैंजोआजभीशिक्षासेवंचितहैं।इनबातोंकोध्यानमेंरखतेहुएकेंद्रसरकारकीपढ़ेगाइंडियातभीतोबढ़ेगाइंडियामुहीमकीतर्जपरचंडीगढ़पुलिसविभागकेइंस्पेक्टरनरेंदरपटियालमददकरनेकेलिएआगेबढ़रहेहैं।

रामदरबारमेंगरीबपरिवारकी9वींक्लासकीदोछात्राओंकोसेक्टर-31थानाप्रभारीनरेंदरपटियालनेसाइकिल,स्कूलड्रेस,स्टेशनरीसहितअन्यसामानभीगिफ्टकिया।इसदौरानछात्राओंनेचंडीगढ़पुलिसकेडीजीपीप्रवीररंजन,एसएसपीकुलदीपचहल,थानाप्रभारीकाआभारव्यक्तकिया।थानापरिसरमेंअन्यपुलिसकर्मीसहितछात्राओंकेस्वजनभीमौजूदथे।पटियालकाकहनाहैकिआगेभीइसीतरहआर्थिकरूपसेकमजोरऔरजरूरतमंदबच्चोंकीसहायताकरेंगे,क्योंकिबच्चोंकीशिक्षासबसेपहलेहैऔरबच्चोंकीपढ़ाई नरुकेइसलिए जरूरीकदमभीउठाएंगे।

कोरोनाकालमेंहजारोंबच्चोंतकपहुंचायापाठ्यसामग्री

इससेपहलेकोरोनाकालमेंनरेंदरपटियालसेक्टर26थानाप्रभारीथे।महामारीकेदौरानबफरऔरकंटेनमेंटजोनमेंविभाजितहोनेसेसभीकोघरमेंरहनेकेआदेशजारीथे।दोमहीनेबादस्कूलकीपढ़ाईऑनलाइनशुरूहोनेकेबादसभीपरिवारकेबच्चोंकोपटियालनेपाठ्यसामग्रीवितरितकियाथा।पटियालनेपाठ्यसामग्रीलेनेकेलिएअपनासरकारीऔरनिजीनंबरभीहेल्पलाइनकेतौरपरजारीकियाथा।इसदौरानकरीबदोहजारपरिवारकोमददकेलिएपटियालएकटीमनेकदमबढ़ायाथा।

कोरोनाकालमेंबेस्टथानेकाअवार्ड

इससेपहलेभीकोरोनाकालमेंसेक्टर-26थानाप्रभारीरहतेनरेंदरपटियालनेकोरोनाहबबनचुकेबफरजोनजोनघोषितबापूधाममेंदोमहीनेतकलोगोंकोदूध,दवाई,किताबसहितजरुरतसेसामानपहुंचानेकासराहनीयकार्यकियाथा।कोरोनाकालमेंस्पेशलटीमद्वाराएकसर्वेकेदौरानसेक्टर-26थानापुलिसकोपब्लिकसेबेहतरतालमेलऔरकेसोंकेनिपटारेकेलिएबेस्टपुलिसस्टेशनकाअवार्डभीमिलाथा।

जबएककॉलपरदूधकापैकेटपहुंचानेपहुंचेथेथानाप्रभारी

साल2020मेंबफरजोनमेंकैदबापूधामनिवासीमहिलासुशीलाकुमारीनेबतायाकिउनकेघरमेंबच्चेकेलिएदूधखत्मथाऔरपैसेभीनहींथे।उन्होंनेपुलिसकंट्रोलरूममेंकॉलकीतोसेक्टर26थानाकेतत्कालिकप्रभारीइंस्पेक्टरनरेंदरपटियालकानंबरमिला।उन्हेंकॉलकरनेपरथोड़ीदेरमेंदूधकापैकेटलेकरखुदपहुंचेथानाप्रभारीनेआर्थिकमददभीकी।वहीं,विनोदकुमारनेबतायाकिउनकीएरियासीलहोनेकीवजहसेइंस्पेक्टरनरेंदरपटियालकोकॉलकरनेपरउनकेघरपीजीआइसेदवाइयांलाकरपुलिसनेपहुंचायाथा।इसकीलोगोंनेखूबसराहनाकियाथा।