मीना मंच से जुड़ी छात्राओं ने बनाए कपड़े के एक सौ झोले, किया वितरण

संवादसहयोगी,महनार:

सिगलयूजप्लास्टिककोलेकरलोगोंकोजागरूककरनेकेउद्देश्यसेमहनारप्रखंडकेमध्यविद्यालयजावजमेंमीनामंचकीछात्राओंनेअभिभावकोंकेबीचकपड़ेकाझोलावितरणकरपर्यावरणजागरूकताकासंदेशदिया।मीनामंचकीछात्राओंनेविद्यालयमेंआयोजितशिक्षक-अभिभावकगोष्ठीमेंउपस्थितशिक्षकोंएवंग्रामीणोंकेबीचएकसौझोलेकावितरणकरसिगलयूजप्लास्टिककेइस्तेमालकोबंदकरनेकीअपीलकी।इनछात्राओंने15अगस्तकोप्रधानमंत्रीद्वारागांधीजीकी150वींजयंतीपरसिगलयूजप्लास्टिककेखिलाफजनआन्दोलनचलानेकेआह्वानपरमीनामंचकीबैठकमेंएकसौलड़कियोंकोसिलाईमशीनसिखानेएवंप्रत्येकलड़कीद्वारादसझोलाएवंदसकपड़ेकेडस्टरबनानेकालक्ष्यरखागयाथा।इसतरहएकहजारझोलाएवंकपड़ेकाडस्टरस्वयंतैयारकरवितरणकरनेकालक्ष्यरखाहै।

सकूलकेप्रधानाध्यापकविवेककुमारनेबतायाकिमीनामंचकीछात्राओंकीमांगपरविद्यालयमेंखराबपड़ीएकसिलाईमशीनकोठीककरायागया।छात्राओंके²ढ़संकल्पकोदेखतेहुएएकसिलाईमशीनऔरउपलब्धकराईगई।पिछलेएकमाहमेंदसछात्राओंनेप्रशिक्षणप्राप्तकरएकसौझोलाएवंकपड़ेकेएकसौडस्टरबनाएहैं,जिन्हेंशिक्षकोंएवंग्रामीणोंकेबीचबांटागयाहै।इसकार्यमेंपूर्वसेप्रशिक्षितछात्रारानीकुमारीएवंमीनामंचकीसंयोजिकाशिक्षिकाकुमारीनिभानेअपनायोगदानदिया।

मीनामंचकीप्रवक्तानिभाकुमारीनेशिक्षकोंएवंग्रामीणोंकेबीचसिगलयूजप्लास्टिकसेहोनेवालीहानियोंकेविषयमेंग्रामीणोंकोबताया।उन्होंनेकहाकिआजहमारेखेत,नदी,नालाएवंघरप्लास्टिकसेभरेहुएहैं।येप्लास्टिकपांचसौवर्षोंतकभीनष्टनहींहोतेहैं।इससेपर्यावरणकोक्षतिपहुंचरहीहैऔरअनेकबीमारियांउत्पन्नहोरहीहैं।प्रधानमंत्रीद्वाराशुरूकिएगएइसजनआंदोलनमेंहमसभीकोभागीदारबननाहै।इसमौकेपरमीनामंचकीछात्राओंनेक्लीनजावज,ग्रीनजावजकाभीसंकल्पलिया।इसकार्यक्रममेंसीआरसीसीअजयकुमार,सुमितकुमार,मंजूकुमारी,कविताकुमारी,मीनाकुमारी,ललिताकुमारी,सीताकुमारी,मुकेशकुमार,अनिलकुमारझा,अरुणकुमार,कुमारीनिभा,कल्पनाकुमारी,सुरेशराय,मो.कमरूल,किरणकुमारी,श्यामनाथराय,त्रिभुवनराय,रविकुमार,पंकजपल्लवआदिशिक्षकएवंग्रामीणउपस्थितथे।