लद्दाख को चीन का हिस्‍सा बताने पर ट्विटर ने संसदीय समिति से मांगी लिखित माफी

नईदिल्‍ली।लद्दाखकोचीनकाहिस्सादिखानेपरमाइक्रोब्लॉगिंगसाइटट्विटरनेलिखिततौरपरमाफीमांगीहै।इससेपहलेबीजेपीसांसदमीनाक्षीलेखीकीअध्यक्षतामेंगठितसंसदीयसमितिनेट्वीटरकोऐसाकरनेकेलिएफटकारलगाईथीऔरइसेराजद्रोहजैसाकरारदियाथा।ट्विटरइंडियाकेमुख्‍यगोपनीयताअधिकारीडेमियनकरेननेएकहलफनामेपरहस्‍ताक्षरकरमाफीनामीभेजा।

मीनाक्षीलेखीनेन्‍यूजएजेंसीपीटीआईकोबतायाकिट्विटरनेभारतीयभावनाओंकोआहतकरनेकेलिएमाफीमांगीहैऔर30नवंबर2020तकगलतीकोसुधारनेकीशपथलीहै।आपकोबतादेंकिट्विटरनेबीते18अक्‍टूबरकोएकव्‍यक्तिकेवीडियोकॉलिंगकेदौरानलद्दाखकीएकलोकेशनकोचीनकेहिस्‍सेकेरूपमेंदिखादियाथा।इसकोलेकरमिनिस्ट्रीऑफइलेक्ट्रोनिक्सएंडइंफ्रॉर्मेशनटेक्नॉलजीकेसचिवनेट्विटरकेसीईओजैकडोर्जीकोलेटरलिखकरसरकारकीओरसेनाराजगीजाहिरकीथी।

इसकेबादसेट्विटरकाविरोधहोनेलगाथाऔरभारतसरकारनेइसपरट्विटरसेजवाबमांगाथा।भारतसरकारनेट्विटरकोउसकीलोकेशनसेटिंगकोलेकरसख्तचेतावनीदीभीदीथीऔरकहाथाकिदेशकीसंप्रभुताऔरअखंडताकेप्रतिकिसीभीतरहकाअपमानमंजूरनहींहोगा।

कोरोनावैक्‍सीनबनानेकेलिएचीननेकीभारत,BRICSदेशोंकेसाथसहयोगकीपेशकश