क्या है UAPA की धारा 15? दिल्ली हिंसा के आरोपियों को जमानत देते हुए HC ने जिसे बताया व्यापक और अस्पष्ट

नईदिल्लीयूएपीएकेतहतगिरफ्तारजेएनयूछात्रानताशानरवाल,देवांगनाकलिताऔरजामियाकेछात्रआसिफइकबालकोजमानतदेतेहुएदिल्लीहाईकोर्टनेकहायूएपीएकीधारा15मेंदीगईआतंकीकृत्यकीपरिभाषाकाफीव्यापकऔरकुछहदतकअस्पष्टभीहै।इसेभारतीयदंडसंहिताआईपीसीकेतहतआनेवालेआपराधिककृत्योंपरलापरवाहतरीकेसेलागूनहींकियाजासकता।दिल्‍लीHCकीसरकारकोनसीहत,कहा-राष्ट्रकीनींवबेहदमजबूत,कॉलेजकेकुछछात्रोंकेप्रदर्शनसेहिलनेवालीनहींहाईकोर्टकीओरसेकहागयाविरोधकीआवाजकोदबानेकीचिंतामेंविरोधकेअधिकारऔरआतंकीकृत्यकेबीचकेअंतरकोमिटादिया।ऐसीमानसिकताकोहवामिलतीहैतोयेलोकतंत्रकेलिएदुखददिनहोगा।UAPAकेसेक्शन15,17,18जैसीअत्यंतगंभीरधाराओंकोलोगोंपरलगाना,एकऐसेकानूनकेमकसदकोकमजोरकरदेगाजोहमारेदेशकेअस्तित्वपरआनेवालेखतरोंकेलिएबनायागयाहै।5सालमेंUAPAऔरदेशद्रोहकेकितनेमामलेदर्जहुए,सरकारनेबताएआंकड़ेदिल्लीहाईकोर्टकीओरसेयूएपीएकीधारा15कोलेकरजोबातकहीगईहैआखिरवहहैक्या।UAPAगैरकानूनीगतिविधियांरोकथामअधिनियम।इसकानूनकामुख्यमकसदआतंकीगतिविधियोंकोरोकनाहै।इसमामलेमेंएनआईएकेपासकाफीशक्तियांहोतीहै।यहकानून1967मेंआया,2019मेंएनडीएसरकारमेंइसमेंसंशोधनहुआजिसकेबादयहऔरमजबूतहुआ।2019मेंसंशोधनबिलसंसदमेंपासहुआजिसकेबादजांचकेआधारपरआतंकवादीघोषितकियाजासकताहै।HCनेदी'पिंजरातोड़'कार्यकर्तादेवांगनाकोजमानत,कहा-प्रदर्शनकेदौरानभड़काऊभाषण,सड़कजामकरनासामान्यबातयूएपीएएक्टकेसेक्शन15केअनुसारभारतकीएकता,अखंडता,सुरक्षा,संप्रभुताकोसंकटमेंडालनेकेइरादेसेभारतमेंआतंकफैलानेयाआतंकफैलानेकीसंभावनाकेइरादेसेकियाकार्यआतंकवादीकृत्यहै।इसमेंबमधमाकोंसेलेकरजालीनोटोंतककाकारोबारशामिलहै।इसमेंव्यक्तिकोपांचसालसेलेकरउम्रकैदकीसजातककाप्रावधानहै।