कोर्ट में सिपाही की वर्दी उतरवाने पर जज का हुआ ट्रांसफर, कार को साइड नहीं देने पर दी थी सजा

उत्तरप्रदेशकेआगराकीजिलाअदालतमेंएकजजकाइसलिएतबादलाकरदियागया,क्योंकिउन्होंनेकथिततौरपरएकपुलिसकर्मीकोवर्दीउतारनेऔरकोर्टमेंएकघंटेतकखड़ेरहनेकेआदेशदिएथे.मामलाशनिवारकाहै,बतायाजारहाहैकिऐसीखबरेंआनेकेकुछघंटोंबादहीजजकातबादलाकरदियागया.आगराकेएकअखबारमेंप्रकाशितरिपोर्टकेमुताबिकजजनेस्थानीयपुलिसयूनिटमेंतैनातकांस्टेबल-कम-ड्राइवरकोतलबकियाथा.बतायाजारहाहैकिघूरेलालनामकेड्राइवरनेकोर्टकेपासकरीबदोकिलोमीटरजजकीगाड़ीकोसाइडनहींदीथी.घूरेलालउसवक्तपुलिसवैनचलारहेथे.जजएडिशनलचीफज्यूडिशियलमजिस्ट्रेटकेपदपरहैं.

जजद्वारासजादिएजानेकेबादकांस्टेबलपरेशानथे,उन्होंनेवॉलंटरीरिटायरमेंटकेलिएआवेदनदेदिया.कथिततौरपरवहआगरापुलिसप्रमुखकेसामनेरोपड़े.

दोपहरमेंयूपीपुलिसनेट्वीटकिया,'डीजीपीयूपीओपीसिंहनेकोर्टद्वाराकांस्टेबलकीवर्दीउतारनेकेआदेशकोगंभीरतासेलियाहैऔरइसमुद्देकोउचितजगहउठाया.हमप्रत्येकपुलिसकर्मीकीगरिमाकेसाथखड़ेहैंऔरसमाजकेसभीवर्गोंसेसुरक्षाबलोंकासम्मानकरनेकीअपीलकरतेहैं.'इसकेकुछघंटेबादहीइलाहाबादहाईकोर्टनेजजकेतबादलेकेआदेशजारीकरदिए.हालांकि,जजकीओरसेइसरिपोर्टपरकोईप्रतिक्रियानहींआईहै.