किसान संगठनों के आंदोलन का असर, नजदीक होकर भी दिल्ली से दूर हो गया है हरियाणा

नईदिल्ली,[बिजेंद्रबंसल]।तीनकृषिसुधारकानूनोंकेखिलाफसातमाहसेचलरहेकिसानसंगठनोंकेआंदोलनकेकारणदिल्लीसेनजदीकहोकरभीहरियाणादूरहोगयाहै।दिल्ली-चंडीगढ़राष्ट्रीयराजमार्गकेकुंडली-सिंघूबार्डरऔरटीकरीबार्डरपरकिसानसंगठनोंकेजमावड़ेकेकारणहरियाणा-दिल्लीकेबीचआवागमनबाधितहैऔरलोगवैकल्पिकमार्गअपनानेकोमजबूरहैं।इससेदोनोंराज्‍याेंकेबीचकारोबारपरभीअसरपड़रहाहै।

कुंडली-सिंघूऔरटीकरीबार्डरपरसातमाहसेडटेकिसानसंगठनकीवजहसेपरेशानहैंलोग

किसानोंकेधरनेसेसबसेज्‍यादापरेशानधरनास्‍थलोंकेआसपासकेक्षेत्रकेलोगहैं।केंद्रवराज्यसरकारकेसाथ-साथस्‍थानीयलोगभीकिसानसंगठनोंसेरास्ताखोलनेकाआग्रहकरचुकीहै।कईबारकिसानसंगठनाेंकेसदस्‍योंऔरस्‍थानीयलोगोंकेबीचटकरावभीहुआहै।इसकेबावजूदकिसानसंगठनकिसीकीएकनहींसुनरहेहैं।निजीवसार्वजनिकपरिवहनव्यवस्थाभीइसकेचलतेप्रभावितहोरहीहै।कोरोनासंक्रमणकालकेसाथहीकिसानसंगठनोंद्वारादिल्‍ली-हरियाणामार्गजामकरनेसेबसेंबंदरहींऔरहरियाणापरिवहनविभागकोकरोड़ोंरुपयेकाघाटाहुआहै।

राष्ट्रीयराजमार्गछोड़करवैकल्पिकमार्गोंसेआवागमनकररहेहैंदिल्ली-हरियाणावासी

अबजबकोरोनासंक्रमणसंकटकमहोगयाहैतबभीकिसानसंगठनोंकेअडिय़लरुखकेकारणसार्वजनिकपरिवहनसेवाकेरूपमेंहरियाणारोडवेजकीबसोंकेरूटप्रभावितहैं।हरियाणासरकारकीतरफसेमुख्यमंत्रीमनोहरलालकेंद्रीयमंत्रियोंकेसमक्षयहपरेशानीरखचुकेहैं।अबपरिवहनमंत्रीमूलचंदशर्मानेएकबारफिरयहआग्रहकेंद्रीयसड़कपरिवहनमंत्रीनितिनगडकरीसेकियाहै।

कुंडलीऔरटीकरीबार्डरसेवैकल्पिकमार्गोंकालेनाहोताहैसहारा

दिल्ली-हरियाणाकेबीचआवागमनकेलिएलोगवैकल्पिकमार्गोंकासहारालेरहेहैं।बड़ेवाहनतोकुंडली-गाजियाबाद-पलवलएक्सप्रेसवेयाफिरखरखौदापरऔचंदीबार्डरसेहरियाणा,राजस्थान,उत्तरप्रदेशकेदूसरेशहरोंसेआवागमनकरतेहैं।सोनीपतकेपासराजमार्गकेकुंडलीबार्डरपरकरीबपांचकिलोमीटरक्षेत्रऔरबहादुरगढ़केपासकरीब15किलोमीटरक्षेत्रमेंकिसानोंनेअपनेअस्थायीआशियानेबनालिएहैं।इससेइनक्षेत्रोंकेलोगहीनहींबल्किदिल्ली-चंडीगढ़केबीचआवागमनकरनेवालेबड़ेवाहनभीप्रभावितहोरहेहैं।

बड़ेवाहनोंकोतोइनबार्डरकेबंदहोनेसेऔसतन50किलोमीटरज्यादाचलनापड़ताहै।छोटेवाहनबहादुरगढ़सेलगतेदिल्लीकेगांवझड़ौता,निजामपुर,बुरारीसहितनरेलाकासहारालेतेहैं।स्थानीयलोगोंकोछोड़देंतोदूसरेप्रदेशोंकेनिजीवाहनचालकोंमेंतोइनवैकल्पिकमार्गोंपरभीअसुरक्षाकीभावनाहीरहतीहै।

''कुंडलीऔरटीकरीबार्डरपरकिसानसंगठनोंकेआंदोलनसेनिजीहीनहींबल्किसार्वजनिकपरिवहनव्यवस्थाभीठपरहीहै।लंबेरूटकीबसोंकोभीकुंडली-गाजियाबाद-पलवलएक्सप्रेसवेसेडायवर्टकरनेसेभीविभागकोनुकसानहैक्योंकि130किलोमीटरलंबेइसएक्सप्रेसवेपरबीचमेंकोईसवारीनहींमिलती।किसानसंगठनोंसेबार-बारकेंद्रऔरराज्यसरकारनेराष्ट्रीयराजमार्गसेहटनेकाआग्रहकियाहै।इनबार्डरकेनजदीकस्थानीयगांववशहरकेलोगभीपरेशानहैंलेकिनकिसानसंगठनअपनीजिदपरअड़ेहैं।हमनेराज्यसरकारकेमाध्यमसेकेंद्रीयसड़कपरिवहनमंत्रीनितिनगडकरीसेइसदिशामेंसार्थककदमउठानेकाआग्रहकियाहै।

-मूलचंदशर्मा,परिवहनमंत्री,हरियाणा।