कैथल में 5 साल तक जिला निर्वाचन आयोग में ड्यूटी करता रहा आउटसोर्सिंग कर्मी, स्वास्थ्य विभाग को पता ही नहीं

कैथल,जागरणसंवाददाता। कैथलजिलानागरिकअस्पतालमेंअनुबंधआधारपरलगाएककर्मचारीपिछलेपांचसालोंसेलघुसचिवालयस्थितजिलानिर्वाचनकार्यालयमेंड्यूटीकरतारहा।एकसालकाकांट्रेक्टएजेंसियोंकोहोताहै,जोहरसालनईएजेंसियोंकेद्वाराठेकालेनेपरयुवाओंकोअनुबंधआधारपररोजगारदियाजाताहैं।उक्तकर्मचारीडाटाएंट्रीआपरेटरहै।

जबविभागकोपोस्टमार्टमरिपोर्टकाडाटाकारिकार्डरखनेकेलिएएंट्रीआपरेटरकीजरूरतपड़ीतोविभागकोध्यानआयाकीमहेशनामकायुवकभीस्वास्थ्यविभागमेंडाटाएंट्रीआपरेटरहै,जोसिविलअस्पतालसेडेपुटेशनपरजिलानिर्वाचनकार्यालयमेंभेजागयाथा,लेकिनपांचसालोंसेवहींकामकररहाहै।पीएमओडा.शैलेंद्रशैलीनेडीसीप्रदीपदहियाकेसंज्ञानमेंमामलालातेहुएकर्मचारीकोवापससिविलअस्पतालबुलाया।अबउक्तकर्मचारीकीड्यूटीअस्पतालमेंलगाईगईहै।

अनुबंधआधारपरलगेहैंडाटाएंट्रीआपरेटरसहितवार्डअटेंडेंट,सिक्योरिटीगार्डवसफाईकर्मचारी

पूरेजिलेमें458केकरीबकर्मचारीअनुबंधआधारपरकामकररहेहैं।इनमें200सेज्यादाकर्मचारीजिलानागरिकअस्पतालमेंलगेहुएहैं।कर्मचारियोंमेंडाटाएंट्रीआपरेटर,वार्डअटेंडेंट,सिक्योरिटीगार्डवसफाईकर्मचारीशामिलहै।इसबारजिसएजेंसीनेठेकालियाहैवहसिविलअस्पतालकानहींबल्किपूरेजिलेकालियागयाहै।कर्मचारियोंकोपिछलेदोमाहकामानदेयतकनहींमिलाहै।इनमेंकईकर्मचारीऐसेहैं,जिन्हेंतीनमाहकामानदेयनहींमिलाहै।मानदेयनमिलनेकेकारणकर्मचारियोंकोपरिवारकेपालन-पोषणमेंदिक्कतआरहीहै।कर्मचारियोंकाकहनाहैकिउधारवब्याजपरपैसेउठाकरराशनलेनापड़रहाहै।अगरकर्मचारीअपनीआवाजउठातेहैंतोउन्हेंनौकरीसेनिकालनेकाभीडरबनारहताहै।

हमेंइसबातकीजानकारीनहींथी:डा.शैलेंद्रममगाईंशैली

पीएमओडा.शैलेंद्रममगाईंशैलीनेबतायाकिअनुबंधआधारपरलगाकर्मचारीपिछलेपांचसालोंसेजिलानिर्वाचनकार्यालयमेंड्यूटीकररहाथा,इसबारेमेंजानकारीनहींथी।अबजानकारीमिलीतोडीसीप्रदीपदहियाकेसंज्ञानमेंमामलालानेकेबादकर्मचारीकोवापसबुलायागयाहै।