कैसे पहलवानों का हौसला हो बुलंद, दो साल से जिला कुमार व केसरी प्रतियोगिताएं बंद

अंबाला,जागरणसंवाददाता।कुश्तीकेखेलमेंहरियाणाकादमखमजहांपूरेविश्वनेदेखाहै,वहींकोरोनाकालकेबादसेअबतकजिलास्तरीयजिलाकुमारवकेसरीकीप्रतियोगिताएंहीनहींहुईहैं।इसकाआयोजनइसबारभीमुश्किलहीदिखाईदेरहाहै,जबकिखिलाड़ीभीइंतजारकररहेहैंकियहप्रतियोगिताएंहोंताकिवेभीस्टेटऔरफिरनेशनललेवलपरअपनीचुनौतीपेशकरसकें।अभीकहानहींजासकताकियहप्रतियोगिताइससालहोगीयानहीं,लेकिनखिलाड़ीअपनीतैयारियांकररहेहैं।

खेलविभागकीओरसेकुश्तीकोबढ़ावादेनेकेलिएजिलास्तरपरप्रतियोगिताओंकाआयोजनकियाजाताहै।यहप्रतियोगितामहिलावपुरुषवर्गमेंहोतीहै,जिसकासालभरखिलाड़ियोंकोइंतजाररहताहै।साल2020मेंकोरोनाकेचलतेलगेलाकडाउनमेंयहप्रतियोगितानहींहोपाई।इसकेबादउम्मीदथीकिअगलेसालयहआयोजनहोगा,लेकिनइसबारभीखिलाड़ियोंकोप्रतियोगितामेंकेआयोजनकाइंतजारहीकरनापड़ा।अबसाल2022मेंभीयहप्रतियोगितानहींहोपाई।यहप्रतियोगिताफरवरीमार्चमेंआयोजितकीजातीरहीहै।अबखिलाड़ियोंकोइंतजारहैकिसाल2023मेंयहप्रतियोगिताहो।

जिलाखेलविभागकीबातकरें,तोयहांपरपंद्रहलड़कियोंसमेतकरीबपचासखिलाड़ीकुश्तीकेखेलसेंटरमेंप्रेक्टिसकरतेहैं।इसकेअलावाजिलाभरमेंकरीबएकदर्जनअखाड़ेहैं,जहांपरखिलाड़ीनियमितरूपसेप्रेक्टिसकररहेहैं।यहसभीखिलाड़ीइंतजारकररहेहैंकिजिलाकुमारऔरजिलाकेसरीकीप्रतियोगिताएंघोषितहोंऔरवेइसमेंभागलें।दूसरीओरखेलविभागकाकहनाहैकिअभीइनप्रतियोगिताओंकोलेकरकोईशेड्यूलनहींहै।अभीखिलाड़ीअपनीप्रेक्टिसमेंजुटेहुएहैं।अबजबभीइसकाशेड्यूलआएगा,खिलाड़ियोंकोइसकीजानकारीदेदीजाएगी।