जोधपुर में खुलेआम लोगों को सीखा रहे थे कि कागज को नोटों में कैसे बदले, पुलिस ने तीन ठगों को पकड़ा

जोधपुरपुलिसनेएकऐसेठगगिरोहकोपकड़ाहैजोकिकागजकोनोटोंमेंबदलनेकेतरीकेलोगोंकोबतारहाथा।पुलिसकोदेखकरतीनशातिरठगभागनेलगेतोइनकोदबोचलिया।अबपुलिसइनसेपूछताछकररहीहै।इनकेपाससेबड़ीमात्रामेंकागज,स्याही,थालीकटोरीसमेतअन्यसामग्रीबरामदहुईहै।

प्रतापनगरथानेकेएसआईरामकृष्णनेबतायाकिवेगश्तपरथे।तबकायलानारोडस्थितएकहोटलकेपासकुछलोगोंकीसंदिग्धगतिविधियांनजरआई।मौकेपरजाकरदेखातोवहांतीनलोगमिले।वेलोगोंकोकागजपरनोटउकेरनासीखारहेथे।वेकागजसेसौ-सौकेनोटबनानाबतारहेथे।पुलिसकोसंदेहहैकितीनोंठगोंनेइसकेलिएकुछलोगोंसेरुपएभीलिएहोंगे।

एसआईरामकृष्णकेमुताबिक,पुलिसनेमौकेसेजोधपुररहनेवालेगिरधारीलालपुत्रकिशनगोपालरंगा,सुल्तानपुत्रमुस्ताकखांऔरओसियांतहसीलकेरहनेवालेसत्यनारायणसोनीपुत्रजगदीशसोनीकोगिरफ्तारकियागया।इनकेखिलाफधोखाधड़ीकाकेसदर्जकियागयाहै।

ऐसेछापतेथेनोट

शुरुआतीपूछताछमेंपतालगाकियेठगराहचलतेलोगोंकोकागजपरनोटबनानेकातरीकाबतातेथे।येपहलेकागजकोधागेमेंलपेटतेफिरस्याहीमेंडूबातेथे।कागजपरनोटकोभीलपेटाजाताऔरवहहुबहूप्रिंटहोजाताहै।इसकेलिएवेस्याहीयाकेमिकलकेसाथहीथाली,कटोरीकाभीउपयोगकररहेथे।उनकेपाससेपुलिसनेकेमिकलसमेतअन्यसामग्रीजब्तकीहै।