'जन सहयोग' से चल रही पुलिस की गाड़ी!

जागरणसंवाददाता,फर्रुखाबाद:जमानेसेएकपुलिसजीपकोमाहमें200लीटरडीजलमिलताहै।जबकिइससेअधिकडीजलगश्तवअन्यड्यूटियोंमेंजीपकेदौड़नेपरखर्चहोजाताहै।चीतामोबाइलकीएकबाइककोएकलीटरडीजलप्रतिदिनमिलताहै।कोतवालीवथानोंकीद्वितीयमोबाइलजीपको150लीटरडीजलदेनेकाप्राविधानहै।जाहिरहैकिपुलिसकीगाड़ीजनसहयोगसेहीचलरहीहै।

पुलिसविभागकेपासकुल125वाहनहैं।इनमें63बाइकेंहैं।पांचबाइकेंगरुणवाहिनीऔरअन्यबाइकोंकोथाने,कोतवालीवपुलिसकार्यालयकेपुलिसकर्मियोंकेनामआवंटितकीगईहैं।आदर्शथानाहोनेपरमऊदरवाजाकोसर्वाधिक14बाइकेंदीगईहैं।इसकेअलावाजनपदकेसभीथानेवकोतवालीमेंदोपुलिसजीपआवंटितकीगईहैं।एकजीपप्रभारीनिरीक्षकवथानाध्यक्षकोआवंटितहै,जबकिदूसरीजीपद्वितीयमोबाइलकेनामसेदौड़तीहै।जीपकोप्रतिमाह200लीटरऔरद्वितीयमोबाइलजीपको150लीटरडीजलमिलताहै।प्रतिदिनएकलीटरपेट्रोलसेचीतामोबाइल(बाइक)दौड़तीहै।जबकिहकीकतमें200लीटरसेअधिकडीजलपुलिसजीपमेंखर्चहोजाताहै।पुलिसकर्मियोंकेमुताबिकशासनसेनिर्धारितडीजल15से20दिनोंमेंहीखर्चहोजाताहै।इसकेबादवाहनसहयोगसेचलतेहैं।हालांकिपुलिसअधीक्षककीअनुमतिपरडीजलबढ़ादियाजाताहै,लेकिनइसवर्षकिसीथानेदारनेपुलिसअधीक्षकसेअतिरिक्तडीजलकेलिएआवेदननहींकिया।पुलिसअधीक्षकडॉ.अनिलकुमारमिश्रानेशासनसेनिर्धारितडीजलदियाजाताहै।