जिले में बढ़ रही तेजी से सड़क दुर्घटनाएं

जागरणसंवाददाता,नूंह:

भागदौड़भरी¨जदगीयाफिरलापरवाही।कारणजोभीहोनूंहजिलेमेंसड़कहादसेतेजीसेबढ़रहेहैं।पुलिसडायरीबतातीहैकिइसबारसड़कहादसोंमेंइजाफाहोनेकेसाथ-साथमरनेवालोंकीसंख्याभीबढ़ीहै।लोगोंकोसड़कसुरक्षाकेलिएसमय-समयपरअभियानचलाकरजागरूकभीकियाजाताहै,लेकिनइसकेबादभीहादसेबढ़रहेहैं।इसमेंआमजनकीलापरवाहीभीएकमुख्यकारणहै।

बतादें,किनूंहजिलेमेंसाक्षरताकमहोनेकेकारणबड़ीसंख्यामेंलोगड्राईवरीकेपेशेसेजुड़ेहुएहैं।जागरूकताकीकमीकेकारणछोटीउम्रमेंहीबच्चेगाड़ीकास्टे¨रगसंभाललेतेहैं।कमपढ़ेलिखेवअनपढ़होनेकेकारणउन्हेंट्रैफिकनियमोंकीभीजानकारीनहींहोती।ऐसेमेंवोदुर्घटनाओंकोअंजामदेतेहैं।हालातयेहैंकिनूंहजिलेमेंकरीबबीसप्रतिशतबच्चे18सालसेपहलेड्राई¨वगशुरूकरदेतेहैं।पुलिसआंकड़ोंकेमुताबिकवर्ष2016में26अगस्ततक323दुर्घटनाएंहुईथी।जिनमें144लोगमौतकेशिकारहुएतो305लोगघायलहोगए।इसवर्षयहआंकड़ाबढ़गयाहैऔरमरनेवघायलोंकीभीसंख्याबढ़ीहै।2017में26अगस्ततक347सड़कदुर्घटनाएंहुईहैं।जिनमें165लोगमरेहैंतथा360लोगघायलहुएहैं।इसकेअलावादुर्घनाओंमेंसंपत्तिकानुकसानभीकरोड़ोंकाहुआहै।

जिलेमेंसरकारीपरिवहनसुविधाबेहतरनहोनेकेकारणयहांआटो,मार्शल,जीपसहितअन्यवाहनोंमेंसवारियांभेड़-बकरियोंकीतरहभरेजातेहैं।यहांऐसेवाहनोंकेटकरानेसेएकसाथसात-सातमौतहुईहै।इसकेअलावायहांओवरलोडडंपरवहाइवाकाभीतांडवहै।सबसेअधिकलोगडंपरवहाइवाकेहीशिकारहुएहैं।

सड़कदुर्घटनाएंबढ़रहीहैं।हमारीकोशिशहोतीहैकिलोगोंकोजागरूककियाजाए।सड़कसुरक्षासप्ताहकेमाध्यमसेलोगोंकोजागरूककियाजाताहै।लोगभीसतर्कताबरतें।बच्चोंकोवाहननदें,स्पीडवनियमोंकाध्यानरखें।

नाजनीनभसीन,एसपीनूंह।