जेल में रहकर कारोबार का प्रशिक्षण लें आरोपित

संतकबीरनगर:जेलअपराधियोंकेसुधरनेकास्थानहै,मौजमस्तीकानहीं।पूर्वकीसरकारमेंजोभीहोताथाअबवहनहींचलनेपाएगा।अपराधियोंकोकारोबारकाप्रशिक्षणदेकरपरिवारकोचलानेकेलायकबनानेकाप्रयासकियाजारहाहै।सरकारीप्रयासोंकेबादभीसुधारनहींआनेपरफिरउन्हेंपरिणामभुगतनापड़ेगा।

जिलाकारागारकेलोकार्पणकार्यक्रममेंमुख्यमंत्रीयोगीआदित्यनाथनेकहाकिजेलयातनाकेंद्रनहींबल्किसुधारकेकेंद्रकेरूपमेंविकसितकिएजारहेहैं।अलगबातहैकिपूर्वकीसरकारमेंजिसतरहसेमोबाइलपरबातकरनेऔरगिरोहसंचालनकाकार्यहोताथाअबयहनहींहोसकेगा।स्कूल,चिकित्सालयसमेतरोजगारप्रशिक्षणकेंद्रभीजेलमेंबनाएगएहैं।सुधारकामौकादेनेकेबादभीअपराधसेनातानहींछोड़नेवालोंकेलिएसख्तीकाभीप्रबंधहै।उन्होंनेकहाकिजेलमौज-मस्तीकाकेंद्रनहींबनसकतेहैं,इसमेंअपराधियोंकासहयोगकरनेवालेअधिकारियोंकेखिलाफकठोरकार्रवाईकीजाएगी।सपानेताकेकार्यालयपरपुलिसकाकड़ापहरा

संतकबीरनगर:मुख्यमंत्रीकेकार्यक्रमकोलेकरपुलिससक्रियरही।सपानेताओंपरप्रशासनकीविशेषनिगाहरही।कार्यक्रमस्थलकेरास्तेपरस्थितसपाकेवरिष्ठनेतासुनीलसिंहकेकार्यालयपरपुलिसकापहराकड़ाथा।जबतकमुख्यमंत्रीउसरास्तेसेनहींगुजरगए,वहांपुलिसछावनीबनीरही।

प्रशासनमुख्यमंत्रीकेकार्यक्रमकोलेकरविशेषएहतियातबरतरहीथी।सपाकेजिननेताओंसेपुलिसकोकोईआशंकाथीउन्हेंपहलेहीचेतादियागयाथा।कुछलोगोंकोउनकेघरपरहीरोकदियागयाथा।सुनीलसिंहकेकार्यालयकोबंदकरवाकरवहांबड़ीसंख्यामेंपुलिसतैनातकरदीगईथी।